प्रियंका गांधी वाड्रा को बताया इमोशनल ब्लैकमेलर,रायबरेली में लगे पोस्टर्स..

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

रायबरेली। सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में लोगों के निशाने पर उनकी पुत्री प्रियंका गांधी वाड्रा हैं। कल शहर में कई जगह पोस्टर लगे, जिनमें प्रियंका को इमोशनल ब्लैकमेलर बताया गया।

कांग्रेस के गढ़ माने जाने वाले रायबरेली में देर रात जगह-जगह प्रियंका गांधी के लापता होने के पोस्टर लगाए गए। देश में लोकसभा चुनाव में अभी भले ही समय बाकी हो, लेकिन रायबरेली में पोस्टर पॉलिटिक्स की शुरूआत हो गई है। शहर में कई जगह पर लगे पोस्टर्स में कांग्रेस की स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी को ‘इमोशनल ब्लैकमेलर’ बताया गया है। इतना ही नहीं पोस्टर में प्रियंका से सवाल भी पूछा गया है कि आप रायबरेली कब आएंगी, क्योंकि इस बीच रायबरेली में कई बड़े हादसे हुए जिसमे प्रियंका वाड्रा नजर नहीं आई। ऐसे में कांग्रेस विरोधियों को कांग्रेस नेता प्रियंका पर हमला करने का मौका मिल गया है।

केंद्र के साथ ही प्रदेश में भाजपा सरकार ने संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी के गढ़ रायबरेली को अरुण जेटली की सांसद निधि के उनको घेरने की तैयारी की। अब रायबरेली कांग्रेस संगठन का काम देख रही प्रियंका गांधी पर निशाना साधा गया है। कांग्रेस के विरोधियों ने प्रियंका वाड्रा के लापता होने को लेकर जगह-जगह पोस्टर लगाए हैं। साथ ही लोगों को पम्पलेट्स भी बांटे गए हैं। पोस्टर्स रायबरेली में त्रिपुला चौराहे से लेकर हरदासपुर तक और शहर में कई जगह लगाए गए हैं।

पोस्टर में मैडम प्रियंका वाड्रा लापता लिखा है। इस पोस्टर में हरचंपुर रेल हादसा, ऊंचाहार दुर्घटना और रालपुर हादसे में प्रियंका गांधी के न आने पर तंज कसते हुए लिखा गया है कि नवरात्र, दुर्गा पूजा व दशहरा में तो नहीं दिखाई दी। अब क्या ईद में दिखेंगी मैडम वाड्रा।

इसी महीने की दस तारीख को फरक्का एक्सप्रेस हरचंदपुर में बेपटरी हो गई थी। उसमें सात लोगों की मौत हो गई थी। करीब 42 लोग घायल हो गए थे। इसी घटना के तीसरे दिन ऊंचाहार में मुंडन संस्कार कराकर लौट रहे परिवार का वाहन बस से जा टकराया था, जिसमें आठ लोगों की मौत हो गई थी। उसके बाद तीसरी घटना दो अन्य थाना क्षेत्रों में युवकों के डूबकर मौत हो जाने की खबर आई।

इन तीनों घटनाओं को पोस्टर में यह कहते हुए दर्शाया गया है कि इन दर्द भरी आवाज प्रियंका वाड्रा तक क्या नहीं पहुंची। पोस्टर में यह भी कहा गया है कि दुर्गा पूजा, दशहरा जैसे त्योहार पर भी उनकी कोई आहट यहां नहीं आई। न ही उनकी कोई शुभकामना और मंगलकामना का संदेश आया। पोस्टर में सवाल उठाया गया है कि क्या अब ईद में ही प्रियंका वाड्रा यहां दिखेंगी। प्रियंका गांधी के इस तरह के पोस्टर से रायबरेली का राजनैतिक माहौल गरमाने के साथ चर्चाओं का बाजार भी गर्म हो गया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: