अयोध्या में गोपाष्टमी पर हुवा गौ पूजन

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.


वासुदेव यादवअयोध्या। गोपाल के देश में गऊवंश की हत्या पृथ्वी पर अस्थिरता का कारण बन सकती है ।गौ की रक्षा के लिये ही पृथ्वी पर मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम तथा लीला पुरुषोत्तम भगवान श्रीकृष्ण का अवतरण हुआ। श्रीकृष्ण तो विशेष रूप से गोपाल –गोविंद कहलाते हैं ।यह विचार गोपाअष्टमी पूजन के अवसर पर गऊसेवी श्रीराम जन्मभूमि तथा श्रीकृष्ण जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष मणिराम दास छावनी के महंत नृत्य गोपाल दास महाराज ने व्यक्त किया।श्रीदास ने कहा गौ सदैव से ही हिन्दू समाज के लिए धार्मिक एवं सांस्कृतिक मानविन्दु के रूप में प्रतिष्ठित है ।यही नही यह आर्थिक वृद्धि की जहाँ केन्द्र है वही भारतीय कृषि व्यवस्था की मेरूदंड भी है।यह भारत जैसे देश के लिए ईश्वरीय वरदान है ।उन्होंने कहा दुर्भाग्य है कि आज हिन्दूओं की सर्वमान्य पूज्य गौ माता का रक्त कुछ लोगों द्वारा अपने निजी स्वार्थ की पूर्ति के लिये इस धरा पर गिराकर अपमानित किया जा रहा है ।उन्होंने कहा पर उन्हें यह मालुम होना चाहिए कि गोभक्तो के रहते उनकी मंशा सफल होने वाली नहीं है । उन्होंने स्मरण कराते हुए कहा सन 1857 की क्रांति के मूल में भी गौ हत्या का विरोध था जिसके विरूद्घ गोभक्त मंगल पांडे ने विगुल फूंककर सम्पूर्ण राष्ट्र को एकसूत्र में बाध दिया।हिन्दू समाज ही नही अपितु सभी धर्मों को गोवंश के प्रति निष्ठावान होना चाहिए क्योंकि यह सभी के लिये सदुपयोगी है ।उन्हो ने राज्य सरकार द्वारा गौ संवर्धन हेतु उठाये गये कदमो की प्रशंसा करते हुए कहा धर्म संस्कृति और जन कल्याण के लिए समर्पित सरकार ने अवैध बूचड़खानो को बंद कराकर समाज हित का काम किया है।उन्हो ने समाज का आह्वान करते हुए कहा राम -कृष्ण और शंकर के इस देश मे अधिक से अधिक गऊ पालन होना चाहिए।इस अवसर पर मणिराम दास छावनी गौशाला मे आचार्य वंशीधर द्विवेदी के मार्गदर्शन मे गऊवंश का वैदिक मंत्रोंचारण से पूजन उत्तराधिकारी महंत कमल नयन दास शास्त्री तथा संत जानकी दास ने किया। पूजन मे मणिराम दास छावनी ट्रस्ट के सचिव कृपालु राम दास ” पंजाबी बाबा ” बनारसी बाबा दीपक शास्त्री, विनोद जायसवाल, विनय शास्त्री,पंडित अनिरुद्ध शुक्ल,पंडित नित्यानंद, आचार्य रामचरित्र ,वैदिक चन्द्रशेखर शास्त्री,पंडित मनोज वैदिक, पंडित इन्द्रेश मिश्र,संत नरोत्तम दास,आनन्द शास्त्री, रामरक्षा दास,आदि उपस्थित रहे। “कारसेवक पुरम में भी हुआ गौवंशो का पूजन”===================गौ हत्या करने पर फांसी की सजा का प्रावधान हो:अंबरीश =============कारसेवक पुरम की श्रीराम गौशाला मे भी सैकड़ो गौवंशो का वैदिक रीति से पूजन पंडित दुर्गा प्रसाद गौतम तथा आचार्य नारद भट्टाराई के मार्गदर्शन में क्षेत्रीय संगठन अम्बरीष सिंह ने किया।इस अवसर पर प्रबंधक पुरुषोत्तम नारायण सिंह ने कहा गौवंशो को सुरक्षित रखने के लिये सरकारों को दृढइच्छा शक्ति का प्रदर्शन करना होगा ।गौ हत्या करने पर फांसी की सजा का प्रावधान होना चाहिए तभी इस अमूल्य धरोहर को बचाया जा सकता है।सांसद लल्लू सिंह ने कहा प्राचीन काल से ही यह मान्यता चली आरही है कि “गावो विश्वस्त मातरः अर्थात गाय ही विश्व की माता है।भारत की तो यह आत्मा ही है ।उन्होंने कहा गऊ पालन से परिवारों पर बोझ नही बल्कि परिवार सुखी सम्पन्न होगा।गोसेवा करने वाला मनुष्य हर संकटों से मुक्त रहता है।इस लिए गऊवंश का संरक्षण संवर्द्धन हर हाल में होना चाहिए।विहिप के क्षेत्रीय संगठन मंत्री अम्बरीष सिंह ने सरकारों से अपील की कि गौरक्षण हेतु गौशालाओ को हर तरह से सहयोग करें तथा जगह –जगह पर गोचर भूमि छोड़ा जाय।आज गोचर भूमि पर आवासीय तथा व्यापारिक केन्द्र स्थापित हो रहे है।गांवो मे भी गऊ के स्थान पर भैंस और जर्सी पालन को प्रमुखता दी जा रही है।जिसके कारण देशी नस्ल के गऊवंश समाप्त हो रहे है।उन्होने कहा गौ भक्तो को हर हाल मे गऊवंश की रक्षा करनी ही होगी। इस दौरान विहिप प्रान्तीय मीडिया प्रभारी शरद शर्मा,भाजपा नेता वैश्य विनोद जायसवाल, चौरासीकोशी परिक्रमा के प्रमुख सुरेन्द्र सिंह सहप्रबन्धक वीरेन्द्र कुमार, व्यवस्था प्रमुख बालचंद वर्मा,कार्यालय प्रमुख घनश्याम जायसवाल,राजेन्द्र वर्मा, अमित तिवारी, वरूण राय, , एस एन अग्रवाल राजा वर्मा, कथा व्यास सर्वेश,अनिल पांडेय,पवन तिवारी बब्लू सविता,कमला देवी आदि ने गौ वंश का श्रृंगार करके गुड़ और पूड़ियो का भोग लगाकर गौरक्षण संवर्धन का संकल्प लिया।

Source link

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: