हिंडाल्‍को श्रमिकों पर लाठीचार्ज, छोड़े गये आंसू गैस के गोले, बाइकें फूकीं

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.


अनपरा : रेणुसागर स्थित हिंडाल्को पावर प्लांट के गेट नंबर दो के पास भारतीय मजदूर संघ के बैनर तले धरना दे रहे संविदा श्रमिकों को पुलिस ने शुक्रवार की शाम को लाठी भांजकर व आंसू गैस के गोले छोड़कर हटाया। इस दौरान श्रमिक नेताओं व पुलिस के बीच नोकझोंक भी हुई। कुछ श्रमिकों ने पथराव भी किया। इस दौरान पथराव व लाठीचार्ज में दोनों पक्षों से कई लोग घायल हुए। इस दौरान पुलिस ने 30 श्रमिकों को हिरासत में लिया। वहीं आंदोलनकारियों ने पुलिस व प्रशासन पर कंपनी के इशारे पर लाठीचार्ज करने का आरोप लगाया। इस दौरान आक्रोशित लोगों ने तीन बाइकों को आग के हवाले कर दिया। इससे रात आठ बजे के बाद‍ स्थिति और भी अराजक हो गई और आसपास कई अन्‍य जगहों पर भी आगजनी की घटनाएं हुईं। इससे कई पुलिसकर्मी घायल भी हो गए। श्रमिकों की 11 सूत्रीय मांगों को लेकर भारतीय मजदूर संघ के बैनर तले संविदा कर्मियों द्वारा नौ दिनों से धरना दिया जा रहा था। शुक्रवार की शाम अपर जिलाधिकारी उमाकांत त्रिपाठी व अपर पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार दीक्षित के नेतृत्व में पहुंची पुलिस ने धरना देने वाले श्रमिकों को हटाना शुरू कर दिया। इस बीच श्रमिक नेताओं व कुछ पुलिस कर्मियों के साथ नोकझोंक हुई। इस दौरान कुछ श्रमिकों ने पथराव करते हुए पुलिस प्रशासन व कंपनी के खिलाफ नारेबाजी भी की। स्थिति को देखते हुए पुलिस ने लाठीचार्ज करते हुए आंसू गैस के गोले भी छोड़े। श्रमिकों ने बताया कि हमारे नेता जिलाधिकारी से वार्ता के लिए गये हुए हैं। इसी दौरान प्रशासन द्वारा कंपनी प्रबंधन के इशारे पर दमनात्मक कार्रवाई करते हुए बल पूर्वक धरना प्रदर्शन समाप्त कराया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि मजदूरों की मांगों को बल पूर्वक दबाने की कोशिश की जा रही है। वार्ता कर मांगों का निराकरण किये जाने की जगह बल प्रयोग किया जाना औद्योगिक अशांति का कारण बन सकता है।बोले एडीएम : एडीएम उमाकांत त्रिपाठी ने कहा कि धरना देने वालों को कई बार हटने के लिए कहा गया लेकिन वे नहीं मान रहे थे। जब उन्हें पुलिस भेजकर हटाया गया। इस पर कुछ श्रमिकों ने विरोध किया। अब मामला शांत है। उधर, पुलिस के मुताबिक अनाधिकृत रूप से धरना देने वालों को न्यायालय के आदेश पर हटाया गया।

Source link

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: