सऊदी पत्रकार जमाल खशोगी मर्डर केस में तुर्की का खुलासा, गला घोंट कर शरीर के किए गए टुकड़े

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

अंकारा: सऊदी मूल के अमेरिकी पत्रकार जमाल खशोगी हत्याकांड मामले में तुर्की ने खुलासा किया है। तुर्की के अभियोजन पक्ष का कहना है कि सऊदी वाणिज्यिक दूतावास में दाखिल होते ही उन्हें गला दबा कर मार दिया गया था। यही नहीं गला घोंट कर मारे जाने के बाद खाशोगी के शरीर के टुकड़े कर ठिकाने लगा दिया गया।

अभियोजन पक्ष का कहना है कि सऊदी अरब के साथ मिलकर इस हत्याकांड के तह तक जाने की कोशिश की जा रही है। लेकिन अभी तक किसी खास नतीजे पर नहीं पहुंचा जा सका है। बता दें कि खशोगी हत्याकांड मामले में पहली बार तुर्की की तरफ से आधिकारिक बयान जारी किया गया है।

पर असंतुष्टि जाहिर करते हुए बुधवार को कहा कि हत्या के जिम्मेदार लोगों का पता लगाने के लिए ‘‘पर्याप्त’’ कदम नहीं उठाए गए।फ्रांस की इस टिप्पणी को सऊदी अधिकारियों पर दबाव बढ़ाने के एक संकेत के तौर पर देखा जा रहा है।

‘सऊदी सरकार का बयान पर्याप्त नहीं’

विदेश मंत्री ज्यां वेस ले द्रियां ने ‘आरटीएल’ से कहा कि अपराधियों की पहचान कर उन्हें दंडित किया जाना चाहिए। सच्चाई सामने आनी चाहिए। सऊदी अधिकारियों का हत्या की बात स्वीकार करना काफी नहीं है। सच्चाई अब भी सामने नहीं आई है।उन्होंने कहा कि जांच जारी रखनी चाहिए। हम इसकी मांग करते रहेंगे।द्रियां ने कहा कि तुर्की और सऊदी जांचकर्ताओं की जांच के नतीजों के आधार पर हम दोषियों के खिलाफ आवश्यक प्रतिबंध लगाएंगे।

सऊदी अरब के रुख से संयुक्त राष्ट्र भी नाराज
संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग ने तुर्की में मारे गए सऊदी पत्रकार जमाल खशोगी के मामले में निष्पक्ष जांच पर जोर देते हुए सऊदी प्रशासन से कहा है कि वह बिना टालमटोल किए जल्दी से यह बताए कि पत्रकार का शव कहां है। खशोगी को अंतिम बार तुर्की में स्थित सऊदी वाणिज्य दूतावास में प्रवेश करते देखा गया था।आयोग प्रमुख मिशेल बैशलेट ने कहा कि खशोगी के मानवाधिकार हनन की पूरी जांच और इस घटना की जिम्मेदारी तय की जायेगी।

उन्होंने तुर्की और सऊदी अरब द्वारा इस मामले की जांच के लिए उठाये कदमों की प्रशंसा करते हुये कहा जो जानकारी सामने आई है उससे पता चलता है कि संभवतया उच्च पदस्थ सऊदी अधिकारी इसमें शामिल हैं और यह घटना सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में हुई है, इसलिए इसमें जांच का उच्च स्तर बनाए रखना होगा और हैरान कर देने वाली इस जघन्य अपराध की घटना के लिये जवाबदेही तय करनी होगी और न्याय सुनिश्चित करना होगा।

सऊदी अरब के रुख से संयुक्त राष्ट्र भी नाराज
संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग ने तुर्की में मारे गए सऊदी पत्रकार जमाल खशोगी के मामले में निष्पक्ष जांच पर जोर देते हुए सऊदी प्रशासन से कहा है कि वह बिना टालमटोल किए जल्दी से यह बताए कि पत्रकार का शव कहां है। खशोगी को अंतिम बार तुर्की में स्थित सऊदी वाणिज्य दूतावास में प्रवेश करते देखा गया था।आयोग प्रमुख मिशेल बैशलेट ने कहा कि खशोगी के मानवाधिकार हनन की पूरी जांच और इस घटना की जिम्मेदारी तय की जायेगी।

उन्होंने तुर्की और सऊदी अरब द्वारा इस मामले की जांच के लिए उठाये कदमों की प्रशंसा करते हुये कहा जो जानकारी सामने आई है उससे पता चलता है कि संभवतया उच्च पदस्थ सऊदी अधिकारी इसमें शामिल हैं और यह घटना सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में हुई है, इसलिए इसमें जांच का उच्च स्तर बनाए रखना होगा और हैरान कर देने वाली इस जघन्य अपराध की घटना के लिये जवाबदेही तय करनी होगी और न्याय सुनिश्चित करना होगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: