कुमार विश्वास बोले, टमाटर के लिए रो-पीट रहे थे न, लो पहली खेप भेज दी है

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.


नई दिल्ली : पीओके के आतंकी कैंपों पर भारतीय वायुसेनी की कार्रवाई के बाद देशभर में नेताओं से लेकर अभिनेताओं तक के बयान आ रहे हैं. सभी वायुसेना के हौसले को सलाम कर रहे हैं. इसी कड़ी में डॉ. कुमार विश्वास ने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए एयरफोर्स को सलाम तो किया ही है, साथ ही पाकिस्तान को चेतावनी भी दी है. कुमार विश्वास ने अपने ट्वीट में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान को टैग करते हुए लिखा है, ”अब तो आप भी दिमाग ठिकाने लगा लें या ठिकाना बदल लें, क्योंकि हमारी एयरफोर्स और सेना का ठिकाना नहीं है. विश्वास न हो तो घर के बुजुर्गों से पता कर लें”GM @ImranKhanPTI Ab Ya to aap bhi Dimaag thikaney laga len, ya phir apna Thikana badal len ! Kyunki @IAF_MCC aur @adgpi ka koi Thikana nahin 👎 Hum par Vishwas na ho to ghar ke Bujurgon se pata kar lena 😡👎#indianairforce— Dr Kumar Vishvas (@DrKumarVishwas) February 26, २०१९एक अन्य ट्वीट में लिखा है, ”कई दिनों से बालाकोट वाले भारतीय टमाटरों के लिए रो-पीट रहे थे, इंडियन एयरफोर्स ने रात हज़ार टन की पहली खेप जैश के कंट्रोल रूम को दे दी है. अमन का सफ़ेद रंग तो आपको समझ नहीं आता. सो उम्मीद है कि ये लाल रंग पसंद आया होगा. जितना मांगोगे उतना टमाटर भेजेगें”. कुमार विश्वास ने सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगने वालों पर तंज भी किया है. उन्होंने लिखा है, ” इस बार सर्जिकल स्ट्राइक-2 का कोई सबूत मांगे तो एयरफोर्स से अनुरोध है कि आपने जैसा हज़ार टन का सबूत पाकिस्तान को दिया है वैसा ही सौ-दो सौ ग्राम ऐसे लोगों को भी दे दें”. कुमार विश्वास ने सेना की तरफ से ट्वीट की गई दिनकर की कविता भी री-ट्वीट की है.कई दिनों से #Balakot वाले भारतीय टमाटरों के लिए रो-पीट रहे थे, #IndianAirForce ने रात हज़ार टन की पहली खेप जैश के कंट्रोल रूम को दे दी है !अमन का सफ़ेद रंग तो आपको समझ नहीं आता😡सो @ImranKhanPTI उम्मीद है कि ये लाल रंग पसंद आया होगा ! जितना माँगोगे उतना टमाटर भेजेगें😡 वादा 👍🇮🇳— Dr Kumar Vishvas (@DrKumarVishwas) February 26, 2019

Source link

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: