25 फरवरी : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

प्रेस24 न्यूज़ – Press24 News, KNMNफारूक अब्दुल्ला ने कहा, इस वजह से टला भारत-पाक में युद्ध का खतरा

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में एक बार फिर कटुता आई है। लेकिन इसी बीच नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेेता फारूक अब्दुल्ला ने एक बयान दिया है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेेता ने कहा है कि दोनों देशों के बीच जो युद्ध का माहौल बना हुआ था। उसमें अब कमी आई हैं। इसके बाद कहा कि पाक के पीमए इमरान खान के सलाहकार ने जो पीएम मोदी और सुषम स्वजराज से बात की है, वह अच्छा संदेश है। फारूक अब्दुल्ला ने यह बात एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही है। 

फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि मुझे खुशी है कि पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने अपने सलाहकार को भेजा था। जिन्होंने पीएम मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जी से बात की है। हमे उम्मीद है कि जो जंग का माहौल बन रहा था उसमें कुछ कमी आई है। 

आपको बता दें कि पाकिस्तानी सांसद डॉ. रमेश कुमार वंकवानी ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकता ​की। सांसद डा. रमेश कुमार वनक्वानी पाकिस्तान तहरीक—ए—इंसाफ यानी ​की इमरान खान की पार्टी के सांसद है। इस मुलाकात के बाद पाकिस्तानी सांसद ने कहा कि भारत में मेरा गर्मजोशी से स्वागत हुआ।

इसके लिए भारत सरकार का धन्यवाद। मैं वीके सिंह जी, पीएम मोदी से मिला और सुषमा जी के साथ वार्ता की। मैंने आश्वस्त किया कि पुलवामा हमले में पाकिस्तान का कोई हाथ नहीं है, हमें सकारात्म दिशा की ओर बढ़ना चाहिए, हम अमन चाहते है। दरअसल, पाकिस्तानी सांसद रमेश कुमार ​वनक्वानी भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद के साथ प्रयागराज में जारी कुंभ मेले में शिकरत करने आए थे। इस प्रतिनिधिमंडल ने पीएम मोदी से मुलाकात की थी। 

कुलगाम मुठभेड़ में मारे गए तीन आतंकवादियों में से दो पाकिस्तानी नागरिक : जम्मू कश्मीर पुलिस



श्रीनगर।  जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले में रविवार को मुठभेड़ में मारे गए तीन आतंकवादियों में से दो पाकिस्तानी नागरिक थे। ये दोनों पाकिस्तानी नागरिक आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के शीर्ष कमांडर थे और आतंकवाद की कई घटनाओं के सिलसिले में वांछित थे। पुलिस के एक प्रवक्ता ने सोमवार को बताया कि मारे गए आतंकवादियों की पहचान कुलगाम के भशगनपुरा निवासी रकीब अहमद शेख और पाकिस्तानी नागरिकों.. वलीद और नुमान के रूप में हुई है।

कुलगाम जिले के तुरीगाम इलाके में रविवार को जैश ए मोहम्मद के आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में एक पुलिस उपाधीक्षक शहीद हो गए। प्रवक्ता ने कहा ‘‘मारे गए तीनों आतंकवादियों की पहचान कुलगाम के शिगनपुरा निवासी रकीब अहमद शेख और पाकिस्तानी नागरिकों.. वलीद और नुमान के तौर पर हुई है। मुठभेड़ स्थल से आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद हुई है।

उन्होंने बताया कि पुलिस के रिकॉर्ड के अनुसार, तीनों आतंकवादी प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद से संबद्ध थे। वलीद और नुमान जैश ए मोहम्मद के शीर्ष कमांडर थे और कश्मीर घाटी के दक्षिणी हिस्से में सक्रिय थे। प्रवक्ता ने कहा, ‘‘पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, इन आतंकवादियों ने इलाके में कई हमलों की साजिश रची थी और उन्हें अंजाम दिया था। लोगों पर ज्यादती, आतंकी हमलों, सुरक्षाबलों और सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर हमले जैसे कई मामले उनके खिलाफ दर्ज थे और कानून प्रवर्तन एजेंसियों को उनकी तलाश थी। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ स्थल से राइफलों सहित अन्य हथियार और गोला बारूद बरामद हुआ है। 

इमरान ने मोदी से लगायी शांति की गुहार, मांगा मौका



इस्लामाबाद। प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत से शांति का एक मौका और देने की अपील करते हुए यकीन दिलाया है कि पुलवामा हमले को लेकर अगर पर्याप्त सबूत दिए जाते हैं तो उन पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक दिन पहले वक्तव्य के जवाब में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने सोमवार को शांति का एक मौका और देने की अपील करते हुए यह यकीन दिलाया है। 

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के फिदायीन हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 44 जवानों केे शहीद होने के बाद पाकिस्तान लगातार बैकफुट पर है। गौरतलब है कि मोदी ने कहा था कि अगर वह (इमरान खान)पठान है तो अपनी बातों पर कायम रहें।

समाचार पत्र ‘डॉन’ के मुताबिक पाकिस्तान के पीएमओ की ओर से जारी बयान के मुताबिक, ‘‘प्रधानमंत्री इमरान खान अपनी जुबान पर कायम हैं कि अगर भारत कार्रवाई योग्य खुफिया जानकारी देता है तो हम लोग तत्काल कार्रवाई करेंगे।’’ क्षेत्र में स्थिरता को लेकर पाकिस्तान की प्रतिबद्धता दोहराते हुए खान ने  मोदी से शांति का एक मौका देने की भी अपील की है।

अफगानिस्तान में सैन्य कार्रवाई में दो आतंकवादी ढेर



सारी पुल। अफगानिस्तान में उत्तरी सारी पुल प्रांत के संगाचारक जिले में सैन्य बलों के कार्रवाई में दो आतकंवादी ढेर हो गए तथा दो कमांडर समेत नौ लोग घायल हुए हैं। सेना के आधिकारिक बयान के अनुसार सुरक्षा बलों ने रविवार को विद्रोहियों के खिलाफ कार्रवाई में कई गावों एवं इलाकों को पुन: अपने कब्जे में लेते हुए दो आतंकवादियों को मार गिराया। इस हमले में संगचारक जिले के शैडो राज्यपाल मौलवी अब्दुल हाव एवं तालिबान के सैन्य आयोग के प्रमुख मुल्ला नूर मोहम्मद समेत नौ लोग घायल हो गए। इस अभियान में सुरक्षा बलों के हताहत होने की फिलहाल कोई जानकारी नहीं है तथा सैन्य अभियान के पिछले कई दिनों तक जारी रहने की बात की गयी है। तालिबान ने इस रिपोर्ट पर अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है।

‘पीरियड : एंड ऑफ सेंटेंस’ को मिला बेस्ट शॉर्ट फिल्म का ऑस्कर



लॉस एंजेल्स। दुनिया के सबसे बड़े फिल्म पुरस्कार एकेडमी अवार्ड्स यानी ऑस्कर पुरस्कार समारोह में भारत की लघु फिल्म ‘पीरियड : एंड ऑफ सेंटेंस’ को डॉक्युमेंटरी शॉर्ट सब्जेक्ट श्रेणी में ऑस्कर पुरस्कार मिला है। इस डॉक्युमेंट्री की कहानी हापुड़ में रहने वाली लड़कियों पर बुनी गई है। इससे पहले ऑस्कर समारोह के लिए रेड कार्पेट पर सितारों का जमावड़ा देखने को मिला। इस समारोह में दुनियाभर के तमाम दिग्गज सितारे मौजूद थे। इस समारोह में लेडी गागा को भी उनके गाने शैलो के लिए ऑस्कर मिला। इस साल के 91वें अकैडमी अवार्ड्स में हॉलीवुड फिल्म ‘रोमा’ को सबसे ज्यादा 10 अलग-अलग कैटिगरी में नॉमिनेट किया गया था। मैक्सिको के फिल्म निर्माता-निर्देशक अल्फोंसो कुरों की फिल्म ‘रोमा’ को विदेशी भाषा की सर्वाेत्तम फिल्म का ऑस्कर पुरस्कार हासिल हुआ। भारत की लघु फिल्म‘पीरियड : एंड ऑफ सेंटेंस’को डॉक्युमेंट्री शॉर्ट सब्जेक्ट श्रेणी में ऑस्कर मिला ,वहीं, ‘स्पाइडर मैन : इनटू द स्पाइडर वर्स’ को सर्वश्रेष्ठ एनिमेटेड फिल्म का पुरस्कार मिला।

फिल्म गली बॉय में रणवीर सिंह के बजाय इस एक्टर का काम आया अमिताभ बच्चन को पसंद, फूलों के साथ भेजी चिट्ठी



एंटरटेनमेंट डेस्क। फिल्म गली बॉय रिलीज हो चुकी है और बॉक्स ऑफिस  पर अच्छी कमाई कर रही है। जहां सभी इस फिल्म में रणवीर सिंह के काम की सराहना कर रहे हैं वहीं महानायक अमिताभ बच्चन को गली बॉय के अभिनेता सिद्धांत चतुर्वेदी का काम बहुत पसंद आया है और उन्होंने सिद्धांत की एक्टिंग की सराहना की है। अभिताभ बच्चन ने इसके लिए सिद्धांत को फूलों के साथ एक चिट्ठी भी भेजी है। 

अमिताभ की भेजी चिट्ठी और फूलों की फोटो सिद्धांत ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर की है। इस चिट्ठी में लिखा हुआ है, सिद्धांत गली बॉय देखी और रहा न गया। किसी भी फिल्म में कलाकार का कैमरे के सामने साधारण रहना सबसे कठिन होता है। आप थे! आपकी अदाकारी पर बधाईयां और स्नेह’। 

अमिताभ द्वारा भेजी गई चिट्ठी और फूलों के लिए सिद्धांत ने उनका धन्यवाद किया और पोस्ट पर कैप्शन में लिखा, सादर प्रणाम, आपका उपहार और आशीर्वाद मिला जो मेरे लिए अकल्पनीय है। इस ख़ुशी की व्याख्या मैं शब्दों में नहीं कर सकता। यह मेरे लिए सौभाग्य और गर्व का पल है, और अब बस आपके चरण स्पर्श की कामना करता हूं। गौरतलब है कि फिल्म गली बॉय में जहां रणवीर सिंह ने रैपर की भूमिका निभाई है वहीं इस फिल्म में सिद्धांत चतुर्वेदी एमसी शेर के किरदार में नजर आए हैं जो फिल्म में मुराद ( रणवीर सिंह ) का रैपर बनने के सपने को पूरा करने में उसकी मदद करता है।

इस तरह के मौके का फायदा उठाता रहूं तो विश्व कप टीम में मिल सकती है जगह: मैक्सवेल



विशाखापत्तनम। ग्लेन मैक्सवेल अब भी सुनिश्चित नहीं हैं कि वह आस्ट्रेलिया की विश्व कप जाने वाली टीम में जगह बना पायेंगे या नहीं लेकिन उनका मानना है कि भारत के खिलाफ पहले टी20 में खेली इस तरह की कई पारियां इसमें मददगार साबित हो सकती हैं। 

भारत के खिलाफ पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में जीत दिलाने में मैक्सवेल की अर्धशतकीय पारी काफी अहम रही। उन्होंने 43 गेंद में 56 रन बनाये जिससे आस्ट्रेलिया ने अंतिम गेंद में तीन विकेट की जीत हासिल की। लेकिन विश्व कप के लिये जाने वाली 15 सदस्यीय टीम में उनके स्थान की गांरटी नहीं है। 

मैक्सवेल ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘मुझे बिलकुल नहीं पता है कि मैं विश्व कप टीम में शामिल रहूंगा या नहीं और मैं किस नंबर पर बल्लेबाजी करूंगा इसलिये मुझे लगता है कि यह मौके पर निर्भर करता है। अगर मैं आज की तरह मौकों का फायदा उठाना जारी रख सकता हूं तो बेहतर होगा। 

उन्होंने कहा अगर मैं इस तरह की पारियों को नाबाद रखता हूं और इस तरह ही निरंतर प्रदर्शन करता हूं तो मुझे लगता है कि मैं विश्व कप के लिये टीम में अपना नाम शामिल करवाने में सफल हो सकता हूं और साथ ही उम्मीद करता हूं कि मैं इस पूरे साल इसी तरह बल्लेबाजी करता रहूं। 

मनीष कौशिक सहित तीन भारतीय सेमीफाइनल में



नयी दिल्ली। राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदकधारी मनीष कौशिक (60 किग्रा) उन तीन भारतीय मुक्केबाजों में शामिल रहे जिन्होंने ईरान के छाबाहार में चल रहे माकरान कप के सेमीफाइनल में पहुंचकर पदक पक्के किये। राष्ट्रीय चैम्पियन मनीष ने रविवार की रात क्वार्टरफाइनल बाउट में सलार मोमिवांड को 5-0 से शिकस्त दी। 

सेमीफाइनल में जगह बनाने वाले अन्य भारतीयों में पूर्व राष्ट्रीय चैम्पियन दुर्योधन सिंह नेगी (69 किग्रा) और रोहित टोकस (64 किग्रा) शामिल थे। इस तरह पदक दौर में पहुंचने वाले भारतीय मुक्केबाजों की संख्या आठ तक पहुंच गयी है। राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदकधारी सतीश कुमार (91 किग्रा से अधिक), मंजीत भसह पंघाल (75 किग्रा), संजीत (91 किग्रा), ललित प्रसाद (52 किग्रा) और दीपक (49 किग्रा) ने भी शनिवार को सेमीफाइनल में प्रवेश किया। 

नेगी ने रविवार को सबसे ज्यादा दमदार जीत दर्ज की और उनके प्रतिद्वंद्वी कामयाब मोराडी ने दूसरे दौर में हटने का फैसला किया। बाद में राष्ट्रीय पदकधारी रोहित ने तुर्कमेनिस्तान के तुग्रुईबाग को 5-0 से मात दी। दिन के लिये निराशाजनक दिन मनीष पंवार (81 किग्रा) के लिये रहा जो क्वार्टरफाइनल बाउट में केवियान सफारी से 0-5 से पराजित हो गये। 

ई-कॉमर्स पर राष्ट्रीय नीति वक्त की जरूरत: फियो



नयी दिल्ली। निर्यातकों के संगठन भारतीय निर्यातक महासंघ (फियो) ने राष्ट्रीय ई. कॉमर्स नीति के प्रारूप का स्वागत किया है और कहा है वक्त की जरूरत को देखते हुए यह सही दिशा में उठाया गया सटीक कदम है। फियो के अध्यक्ष गणेश कुमार गुप्ता ने सोमवार को कहा कि इससे निर्यात को प्रोत्साहन मिलना तय है, लेकिन इसमें अब भी व्यापक सुधार की गुंजाइश है। दुनिया भर में ई. कॉमर्स का व्यवसाय तेजी से बढ़ रहा है और भारत भी इससे अछूता नहीं है। ई. कॉमर्स के जरिये विदेशों में कारोबार का फैलाव हो सकता है, लेकिन इसके लिए सूचना प्रौद्योगिकी का मजबूत ढांचा है।
 
उन्होंने कहा कि ई. कॉमर्स की नीति से देश के छोटे कारोबारियों को वैश्विक स्तर पर अपने उत्पाद प्रदर्शित करने का अवसर मिलेगा, जिससे निर्यात में विविधता आयेगी। नीति से नये कारोबारी निर्यात की ओर आकर्षित होंगे। उन्होंने ई. कॉमर्स नीति के जरिये निर्यात बढ़ाने के उपायों और प्रक्रियागत सरलता का भी स्वागत किया है। 

फियो ने नीति में सुझाव देते हुए कहा है कि ई. कॉमर्स की परिभाषा को व्यापक बनाते हुए इसे सभी कारोबार और सरकारी नीतियों पर लागू किया जाना चाहिए। सीमा कर छूट प्राप्त वस्तुओं का विस्तार किया जाना चाहिए। ई. कॉमर्स के लिए अधिकृत डाकघरों की संख्या बढ़ाई जानी चाहिए। ई. कॉमर्स के जरिये निर्यात की जाने वाली वस्तुओं की कीमत 25 हजार रुपये से बढ़ाकर 50 हजार रुपये की जानी चाहिए या यह सीमा पूरी तरह से हटा दी जानी चाहिए।

342 अंक की वृद्धि के साथ 36,213 के स्तर पर बंद हुआ सेंसेक्स



मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज सुबह कारोबार की शुरूआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर भी ये बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुआ। बढ़त के इस माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 341.90 अंक यानि 0.95 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 36,213.38 के स्तर पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी में भी कारोबार की समाप्ति पर बढ़त देखने को मिली और ये 88.45 अंक यानि 0.82 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,880.10 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को शेयर बाजार मामूली गिरावट के साथ लाल निशान पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये घटत-बढ़त के साथ बंद हुआ। कारोबार की शुरूआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 95.04 अंक यानि 0.26 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,803.31 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 26.87 अंक यानि 0.075 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,871.48 के स्तर पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी कारोबार की शुरूआत में 28.60 अंक यानि 0.27 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,761.25 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 1.80 अंक यानि 0.017 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,791.65 के स्तर पर बंद हुआ।
प्रेस24 न्यूज़ – Press24 News, KNMN

 

Source link

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: