पीएम नरेंद्र मोदी को मिला सियोल शांति पुरस्‍कार

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.


सियोल : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दक्षिण कोरिया में सियोल शांति पुरस्‍कार प्रदान किया गया। पीएम मोदी यह सम्‍मान पाने वाले पहले भारतीय हैं। प्रधानमंत्री मोदी को उनकी आर्थिक नीतियों, ‘एक्‍ट ईस्‍ट’ नीति और व‍िकासोन्‍मुखी कार्यों के लिए यह सम्‍मान दिया गया है। पीएम मोदी ने इसे 130 करोड़ भारतीयों का सम्मान बताया है। पीएम मोदी से पहले यह पुरस्‍कार संयुक्‍त राष्‍ट्र के पूर्व महासचिवों कोफी अन्‍नान और बान की-मून को भी मिल चुका है। पुरस्‍कार ग्रहण करने के बाद पीएम मोदी ने ‘वसुधैव कुटुम्‍बकम’ के भारतीय दर्शन का भी जिक्र किया और कहा कि इसके तहत पूरी दुनिया को एक परिवार के तौर पर देखा जाता है। उन्‍होंने कहा कि यह अवॉर्ड व्‍यक्तिगत तौर पर उनके लिए नहीं, बल्कि पूरे देश और पिछले 5 साल में अर्जित इसकी सफलता के लिए है, जिसमें 130 करोड़ लोगों का योगदान है।Seoul, South Korea: Prime Minister Narendra Modi awarded the Seoul Peace Prize pic.twitter.com/fqAB5zeTAt— ANI (@ANI) February 22, 2019उन्‍होंने सियोल शांति पुरस्‍कार के तहत मिलने वाली 200,000 डॉलर की राशि नमामि गंगे परियोजना के लिए देने की बात कही। उन्‍होंने यह भी कहा कि उन्‍हें यह पुरस्‍कार ऐसे समय में दिया जा रहा है, जबकि भारत दुनिया को अहिंसा का पाठ पढ़ाने वाले राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की 150वीं जयंती 2019 में मना रहा है और इसलिए वह खुद को अधिक सम्‍मानित महसूस कर रहे हैं।पुलवामा हमले के बीच उन्‍होंने इस मंच पर आतंकवाद का मुद्दा भी उठाया और कहा कि आज यह वैश्विक शांति एवं सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बन गया है। उन्‍होंने जोर देकर कहा कि आतंकियों के नेटवर्क को पूरी तरह खत्‍म करने के लिए जरूरी है कि सभी साथ मिलकर काम करें। पीएम मोदी ने कहा कि ऐसा करके ही नफरत की जगह सौहार्द फैलाया जा सकता है।पीएम मोदी गुरुवार को दो दिवसीय दक्षिण कोरिया दौरे पर पहुंचे थे। शुक्रवार को उनकी दक्षिण कोरिया के राष्‍ट्रपति मून जे-इन के साथ वार्ता भी हुई। पीएम मोदी का यहां औपचारिक स्‍वागत किया गया। उन्‍होंने नेशनल सेमिटेरी जाकर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि भी अर्पित की।

Source link

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: