मजदूर आंदोलन के इतिहास में सदैव याद किये जायेंगे जार्ज साहब -राकेशमणि

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

जार्ज फर्नाडीस ने भारत सरकार में रक्षा , उद्योग , संचार , रेलवे जैसे विभिन्न विभागों में एक मंत्री के रुप में सफलतापूर्वक अपने कर्तव्यों का निर्वहन किया. वे एक अच्छे संगठनकर्ता – पत्रकार भी थे लेकिन जिस कारण से उनको वैश्विक ख्याति मिली , वह इसलिए कि उन्होंने मजदूरों के हित के लिए स्वतंत्र भारत में सर्वाधिक संघर्ष किया. यह बातें हिन्द मजदूर किसान पंचायत के राष्ट्रीय सचिव राकेश मणि पांडेय ने इस संवाददाता से जार्ज फर्नाडीस जी के निधन पर अपने शोक संदेश में व्यक्त किया.

चित्र :जार्ज फर्नाडीस

राकेशमणि ने जार्ज साहब के व्यक्तित्व की चर्चा करते हुए कहा कि वे बचपन से ही श्रमिकों – किसानों और समाज के दु:खी, पीड़ित , असहाय लोगों की समस्याओं के प्रति बेहद संवेदनशील थे.जिसका परिणाम यह रहा कि वे गरीब – कमज़ोर लोगों के हितों के लिए संघर्षरत हो गए. उनका संपूर्ण जीवन शोषण – जुल्म – नाइंसाफी – गैर बराबरी के विरुद्ध संघर्ष का प्रतीक बन गया.1970 – 80 के दशक में वे देश के सर्वाधिक विख्यात मजदूर नेता हो गए. 1974 में आल इंडिया रेलवे मेन्स फेडरेशन के अध्यक्ष के रुप में उन्होंने एैतिहासिक रेल हड़ताल करवाकर यह साबित कर दिया था कि वे मजदूर वर्ग के सबसे पसंदीदा नेता हैं. यह हड़ताल इन्दिरा गांधी के नेतृत्व वाली तत्कालीन केन्द्र सरकार के खिलाफ लोक नायक जयप्रकाश नारायण की अगुवाई में चले संपूर्ण क्रांति आंदोलन में बुनियाद साबित हुई. आपातकाल में वे नायकबनकर उभरे. संसदीय राजनीति में उनको 09 बार लोकसभा में जाने का अवसर प्राप्त हुआ.
बताते चले कि देश के वरिष्ठ राजनेता जार्ज साहब का 29 जनवरी को 88 वर्ष की आयु में दिल्ली के मैक्स हास्पिटल में निधन हो गया हैं. वे पिछले एक दशक से बीमारी का सामना कर रहे थे. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी , कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी सहित देश के विभिन्न राजनीतिक दलों के राजनेताओ , ट्रेड यूनियन के नेताओं , पत्रकारों , समाजसेवियों , बुद्धिजीवियों , समाज के विभिन्न वर्गों द्वारा असल जीवन से लेकर आभासी संसार में देश के इस महान नेता को श्रद्धाजंलि दी जा रही हैं. पूरे देश में शोक की लहर व्याप्त हैं , खास – आम , सभी वर्गो के लोग अपने नेता को याद करके भावुक हो रहे हैं.
(लखनऊ से अंकित वर्मा की खास रपट)

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: