28 जनवरी : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

प्रेस24 न्यूज़ – Press24 News, KNMNयोगी पर उनके मंत्री का आरोप, कहा-मंदिर मुद्दे पर गुमराह कर रहे मुख्यमंत्री

बलिया (उत्तर प्रदेश)। बीजेपी की सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के काबिना मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर राम मंदिर मसले को लेकर देश को गुमराह करने का आरोप लगाया है। प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री राजभर ने बलिया जिले के रसड़ा स्थित आवास पर सोमवार को मीडिया से बातचीत करते हुए बीजेपी पर एक बार फिर निशाना साधा। योगी आदित्यनाथ के, एक निजी टेलीविजन चैनल को दिए गए इंटरव्यू में राम मंदिर मसले का समाधान 24 घण्टे में निकाल देने के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उन्होंने मुख्यमंत्री पर देश को गुमराह करने का आरोप लगाया।

राजभर ने सवाल किया कि बीजेपी केन्द्र में अपने पांच वर्ष के शासन काल में राम मंदिर मसले का समाधान नहीं निकाल सकी तो योगी 24 घण्टे में क्या कर लेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा की केंद्र से लेकर उत्तर प्रदेश तक में सरकार है, उसे राम मंदिर बनाने के लिये रोका किसने है। 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की प्रधानमंत्री पद की दावेदारी को लेकर पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि राहुल इस पद के लिये उपयुक्त व्यक्ति हैं। फिर भी जनता मालिक है, वह जिसे चाहेगी वही प्रधानमंत्री बनेगा। हर व्यक्ति में गुण होता है, राहुल में भी है, जिस तरह वर्तमान समय में केंद्र सरकार चल रही है, राहुल भी उसी तरह सरकार चलाएंगे।

प्रियंका गांधी को कांग्रेस महासचिव बनाये जाने पर लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की सम्भावनाओं को लेकर पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि प्रियंका वोट में कितना इजाफा करने में सफल होंगी, यह तो समय बतायेगा। लेकिन यह सही है कि प्रियंका के महासचिव बनने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश का संचार हुआ है। 

राजभर ने कहा कि भाजपा के साथ उनके दल के गठबंधन का 24 फरवरी आखिरी दिन होगा। उन्होंने भाजपा पर पिछड़े वर्ग को धोखा देने का आरोप लगाया और दावा किया कि लोकसभा के आगामी चुनाव में सवर्ण तथा पिछड़े वर्ग के बीच राजनैतिक संघर्ष होगा और पिछड़े वर्ग सपा-बसपा गठबंधन के साथ होंगे।

भोपाल गैस कांड : पीड़ितों के मुआवजे के लिए अतिरिक्त धन की मांग पर अप्रैल में होगी सुनवाई



नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को कहा कि 1984 में हुए भोपाल गैस कांड के पीड़ितों को मुआवजा देने के लिए यूनियन कार्बाइड कॉरपोरेशन की उत्तराधिकारी कंपनी से 7,844 करोड़ रुपए की अतिरिक्त राशि मांगने संबंधी केन्द्र की याचिका पर अप्रैल में सुनवाई होगी। इस कंपनी का मालिकाना हक अब डाऊ केमिकल्स के पास है।

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना की पीठ ने कहा कि वह पीड़ितों की मुआवजा राशि बढ़ाने के लिए केन्द्र सरकार की उपचारात्मक याचिका पर अप्रैल में सुनवाई करेगी। केन्द्र सरकार ने भोपाल गैस कांड पीड़ितों के मुआवजे के लिए पहले प्राप्त 47 करोड़ अमेरिकी डॉलर के अतिरिक्त, 7,844 करोड़ रुपए की अतिरिक्त राशि दिए जाने के लिए यूनियन कार्बाइड और अन्य फर्मों को आदेश देने की मांग करते हुए न्यायालय में याचिका दायर की है।

इस दुर्घटना में मिथाइल आइसोसायनेट गैस के रिसाव के कारण 3,000 से ज्यादा लोग मारे गए थे। यूनियन कार्बाइड कॉरपोरेशन ने दो-तीन दिसंबर की दरमियानी रात को हुए गैस रिसाव के पीड़ितों के लिए 47 करोड़ अमेरिकी डॉलर (715 करोड़ रुपए) की राशि दी थी।

1984 में हुई दुर्घटना में 3,000 से ज्यादा लोग मारे गए थे, जबकि 1.02 लाख लोग प्रभावित हुए थे। हादसे से प्रभावित लोग समुचित मुआवजा और रिसाव के दुष्प्रभावों के कारण हुई बीमारियों के उचित इलाज के लिए लंबी लड़ाई लड़ रहे हैं। मृतकों के परिजन और हादसे के अन्य पीड़ित दिसंबर 2010 में सरकार की ओर से दायर उपचारात्मक याचिका पर सुनवाई के लिए एक अनुरोधपत्र पर हस्ताक्षर कर रहे हैं जिसे वह उच्चतम न्यायालय के पास भेजेंगे।

इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने तलब की नवाज की चिकित्सा रिपोर्टें



इस्लामाबाद। इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के स्वास्थ्य से जुड़ी सभी चिकित्सा रिपोर्टों को तलब किया है। नवाज शरीफ की इस समय अल अजीजिया भ्रष्टाचार मामले में कोट लखपत जेल में बंद हैं। उन्होंने स्वास्थ्य के आधार पर अपनी सजा निलंबित करने के लिए याचिका दायर की है।

जियो के मुताबिक सोमवार को उच्च न्यायालय की दो सदस्यीय खंडपीठ ने इस मामले की सुनवाई की और नवाज शरीफ के स्वास्थ्य से जुड़ी सभी चिकित्सा रिपोर्टों को तलब किया है। राष्ट्रीय जबाबदेही ब्यूरो(नेब) और कोट लखपत जेल के अधीक्षक को नोटिस जारी करते हुए खंडपीठ ने मामले की सुनवाई छह फरवरी तक के लिए स्थगित कर दी। सुनवाई के दौरान न्यायमूर्ति आमिर फारुख ने नवाज शरीफ के वकील से पूछा कि इस याचिका में नया क्या है। इस पर शरीफ के वकील ख्वाजा हरीस ने न्यायालय को सूचित किया कि मुवक्किल का परिवार उनकी सेहत को लेकर चितित है।

वकील ने न्यायालय से आग्रह किया कि चिकित्सा बोर्ड की रिपोर्टों को तलब किया जाए। उन्होंने शरीफ के स्वास्थ्य से जुड़ी जांच रिपोर्टों को उन्हें उपलब्ध नहीं कराने की शिकायत भी की। शरीफ के वकील ने शनिवार को न्यायालय में याचिका दायर की थी।

इसमें नेब और कोट लखपत जेल के अधीक्षक को पार्टी बनाया गया था। याचिका में आग्रह किया गया है कि जब तक उनकी सजा से जुड़े मामले में की गई अपील पर फैसला नहीं आ जाता उनकी सजा को निलंबित किया जाए। इस मामले में शरीफ को सात साल की सजा मिली है। इस सजा के खिलाफ उनकी की याचिका पर 18 फरवरी को सुनवाई होनी है।

चीन के साथ संबधों में सुधार, लेकिन रक्षा क्षमता और मजबूत करने की जरूरत : जापान



तोक्यो। जापान के प्रधानमंत्री भशजो आबे ने चीन के साथ सुधर रहे संबंधों को और मजबूत करने का संकल्प लिया लेकिन अंतरिक्ष एवं साइबर युद्ध के संभावित खतरे के मद्देनजर अपनी रक्षा क्षमताएं बढ़ाने पर भी जोर दिया।

आबे ने सोमवार को संसदीय सत्र की शुरूआत में कहा कि अक्टूबर में बीजिंग की उनकी यात्रा के बाद चीन के साथ जापान के द्विपक्षीय संबंध फिर से ‘‘सामान्य’’ हो गए हैं तथा देश को व्यापार एवं अन्य क्षेत्रों में जापानी-चीनी सहयोग और बढ़ाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि चीन अपनी अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी का तेजी से विकास कर रहा है। ऐसे में जापान को अंतरिक्ष एवं साइबर युद्ध के संभावित खतरे के खिलाफ अपनी रक्षा क्षमताओं में विस्तार करने की आवश्यकता है। 

ठग्स ऑफ हिंदोस्तान के फ्लॉप होने पर आमिर खान ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा



एंटरटेनमेंट डेस्क। बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान इन दिनों लगातार सुर्खियों में बने हुए है। उनकी नई फिल्म ‘रूबरू रोशनी’ टेलीविजन पर रिलीज हो चुकी है। यह फिल्म दर्शकों को काफी पसंद आ रही है। तो वहीं आमिर खान अपने इस नए प्रयोग से खुश नजर आ रहे है। इसके साथ ही आमिर की फिल्म ठग्स आफ हिन्दुस्तान बॉक्स आफिस पर कोई कमाल नहीं कर सकी। यह फिल्म फ्लॉप रही ​थी। 

आपको बता दें कि एक प्रेस कॉन्फ्रेस में ​आमिर खान ने कहा था कि वह इस फिल्म के फ्लॉप होने का दोष डायरेक्टर पर नहीं डालना चाहते है। जब आमिर खान से पूछा कि ठग्स आफ हिन्दुस्तान के डायरेक्टर विक्टर को माफ करेंगे, इस सवाल का जवाब देते हुए आमिर खान ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि मुझे उन्हें माफ करने की जरूरत है। जिन डायरेक्टर के साथ मैं काम करता हूं, उनकी नीयत अच्छी है। 

आमिर खान ने कहा कि सभी डायरेक्टर अच्छी फिल्म बनाना चाहते है। मैं डायरेक्टर पर भरोसा करता हूं और अगर वो गलत गए हैं तो मैं भी गलत गया हूं। मुझे यह मानने में कोई परेशानी नहीं है। हम सभी अपनी गलतियों से ही सीखते है। दर्शक मेरे नाम पर फिल्म देखने आते है। मैं अपने दर्शकों के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार हूं। 

इस फिल्म के फ्लॉप होने के बाद आमिर खान लगातार आलोचनाओं का शिकार हुए थे। इस पर आमिर खान ने कहा है कि कई लोगों ने कहा कि उन्हें फिल्म अच्छी लगी। मुझे लगता है कि दर्शकों को अपनी राय जाहिर करने का पूरा ​अधिकार है। अगर थोडी कठोरता है, तो कोई बात नहीं, वैसे लंबा समय हो गया है। मुझे कोई फ्लॉप फिल्म दिए हुए। अच्छा है लोगों को भी उनकी भड़ास निकालने का मौका मिला। 

राजामौली की फिल्म में काम करेंगी परिणीति चोपड़ा!



मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा, दक्षिण भारतीय निर्देशक एस राजामौली की फिल्म में काम करती नजर आ सकती है। एस राजामौली दक्षिण भारत के बड़े फिल्म निर्देशकों में शुमार किए जाते हैं। उनकी बाहुबली सीरीज ने विश्वभर में जबरदस्त कमाई की थी। राजामौली की फिल्म आरआरआर वर्ष 2019 में रिलीज होगी, जिसमें जूनियर एनटीआर और राम चरण लीड रोल में होंगे। साथ में फिल्म की लीड एक्ट्रेस को लेकर भी काफी समय से चर्चा चल रही है।

चर्चा है कि फिल्म में परिणीति चोपड़ा काम करेंगी। इसके लिए उन्होंने भारी भरकम फीस की भी मांग की है। मेकर्स से उन्होंने काफी ज्यादा फीस के लिए कहा है। फिल्म के मेकर्स परिणीति का नाम फाइनल करने के लिए उनसे बातचीत कर रहे हैं। मेकर्स फिल्म की शूटिंग  शुरू होने में किसी तरह की देरी नहीं चाहते हैं। साथ ही वे परिणीति द्वारा डिमांड किये गये अमाउंट पर उन्हें साइन करने के बारे में सोच रहे हैं। जल्द ही इसकी ऑफिशियल अनाउंसमेंट भी की जा सकती है। यह फिल्म 300 करोड़ के बड़े बजट में बनकर तैयार हुई है। फिल्म की शूटिंग  के लिए हैदराबाद में आलीशान सेट बनाया गया है। 

दूसरे वनडे में न्यूजीलैंड को हराकर श्रृंखला अपने नाम करना चाहेगी भारतीय महिला टीम



माउंट माउंगानुइ। भारतीय महिला क्रिकेट टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे एक दिवसीय क्रिकेट मैच में मंगलवार को उतरेगी तो उसका इरादा एक बार फिर शानदार प्रदर्शन करके आईसीसी महिला चैम्पियनशिप तालिका में अपनी स्थिति मजबूत करने का होगा। भारतीय महिला टीम ने मैदान से बाहर के विवादों को भुलाकर तीन मैचों की श्रृंखला में शानदार शुरूआत की।

आईसीसी महिला चैम्पियनशिप श्रृंखला के पहले मैच में भारत ने न्यूजीलैंड को नौ विकेट से हराया। श्रृंखला से पहले भारतीय महिला टीम वनडे कप्तान मिताली राज और तत्कालीन कोच रमेश पोवार के बीच मतभेदों के चलते विवादों से घिर गई थी। इसके बाद पोवार को हटाकर डब्ल्यूवी रमन को नया कोच बनाया गया। पहले मैच में भारत के लिये एकता बिष्ट और पूनम यादव ने तीन तीन विकेट लिए जबकि दीप्ति शर्मा को दो विकेट मिले। कीवी टीम 48 . 4 ओवर में 192 रन पर आउट हो गई। इसके बाद स्मृति मंधाना और जेमिमा रौद्रिगेज ने 190 रन की साझेदारी करके भारत को जीत दिलाई।

दूसरे वनडे के साथ भारत का लक्ष्य श्रृंखला जीतने का होगा जो 2014 से 2016 के बीच आईसीसी महिला चैम्पियनशिप श्रृंखला में न्यूजीलैंड से 1.2 से मिली हार का बदला भी होगा। दूसरी ओर न्यूजीलैंड टीम आईसीसी महिला चैम्पियनशिप तालिका में दूसरे स्थान पर है और मेजबान होने के नाते उसे विश्व कप में सीधे प्रवेश मिलेगा।

पहले मैच में न्यूजीलैंड की टीम तीनों विभागों में भारत से कमतर साबित हुई। उसके बल्लेबाजों में सलामी बल्लेबाज सूजी बेट्स (36) और कप्तान एमी सैटर्थवेट (31) को छोड़कर कोई नहीं चल सका। सैटर्थवेट ने मैच के बाद कहा था कि हमें अधिक आत्मविश्वास के साथ खेलना होगा । यह हमारे लिये काफी चुनौतीपूर्ण होगा। सभी बल्लेबाजों और गेंदबाजों को बेहतर प्रदर्शन करना होगा।
टीमें इस प्रकार हैं:
भारत: मिताली राज (कप्तान), तान्या भाटिया, एकता बिष्ट, राजेश्वरी गायकवाड़, झूलन गोस्वामी, डायलन हेमलता, मानसी जोशी, हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना, मोना मेशराम, शिखा पांडे, पूनम राउत, जेमिमा रोड्रिगेज, दीप्ति शर्मा और पूनम यादव।
न्यूजीलैंड: एमी सेटरवेट, सूजी बेट्स, बर्नाडिन बेजिडेनहोट, सोफी डेवाइन, लारेन डाउन, मैडी ग्रीन, होली हडलटन, लेघ कास्परेक, एमेलिया केर, केटी पर्किन्स, एना पेटरसन, हना रोव और लिया ताहुहु। समय: मैच भारतीय समयानुसार सुबह साढ़े छह बजे शुरू होगा।

IND VS NZ: 10 साल बाद कीवी सरजमी पर टीम इंडिया ने रचा इतिहास, तीसरा वनडे सात विकेट से जीता



स्पोटर्स डेस्क। भारत और न्यूजीलैंड के बीच पांच मैचों की एकदिवसीय सीरीज खेली जा रही है। इस सीरीज का तीसरा मैच आज खेला गया। इस मैच में टीम इंडिया ने सात विकेट से जीत हासिल की। इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने इस सीरीज में 3—0 की अजेय बढ़त बना ली है। भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को 49 ओवर में 243 रन पर समेट दिया। इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरूआत शानदार रही और टीम इंडिया ने यह मैच 43वें ओवर में हासिल कर लिया। टीम इंडिया की ओर से कोहली ने शानदार 60 रन बनाए तो वहीं रोहित शर्मा ने 62 रनों की शानदार पारी खेली। रायडू 40 रन बनाकर और कार्तिक 38 रन बनाकर नाबाद रहे। 

आपको बता दें कि टीम इंडिया ने 10 साल बाद कीवी सरजमी पर एकदिवसीय सीरीज जीती है। धोनी की कप्तानी में साल2009 में टीम इंडिया ने 3—1 से सीरीज जीती थी। लेकिन पिछली बार टीम इंडिया को 0—4 से हार का सामना करना पडा था। टीम इंडिया की न्यूजीलैंड के खिलाफ उसकी सरजमी पर दूसरी सीरीज जीत है। जबकि आठ एकदिवसीय सीरीजों में हार का सामना करना पडा है। 

गौरतलब है कि कीवी टीम के कप्तान ​केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। इस मैच में भी कीवी टीम की शुरूआत बेहद ही खराब रही और कोलिन मुनरो दूसरे ओवर में ही चलते बने। मुनरो सात रन बनाकर मोहम्मद शमी का शिकार बने। इसके बाद ​मार्टिन गुप्टिल भी कुछ कमाल नहीं कर सके और 13 रन बनाकर भुवनेश्वर कुमार के शिकार बने। 

कीवी टीम की ओर से सबसे ज्यादा रन सबसे अनुभवी खिलाडी रोस टेलर ने खेली। टेलर ने 93 रन की शानदार पारी खेली। लेकिन एकबार फिर से वे अपना शतक बनाने से चूक गए। हालांकि रोस टेलर का टॉम लाथम ने भी अच्छा साथ दिया। लाथम 51 रन बनाकर आउट हुए। 

जेट एयरवेज में निवेश की तैयारी शुरू



मुंबई। वित्तीय संकट से जूझ रही और गत दिसम्बर में बैंकों के ऋण की किस्त भरने में विफल रही निजी विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज ने नये निवेश और मौजूदा ऋण के बदले शेयर जारी कर ऋणदाताओं को नियंत्रक हिस्सेदारी देने की तैयारी शुरू कर दी है। कंपनी ने आज बताया कि उसने 21 फरवरी को शेयरधारकों को विशेष बैठक बुलाई है जिसमें दो हजार करोड़ रुपये अंकित मूल्य के अतिरिक्त शेयर जारी करने और 25 हजार करोड़ रुपये की सीमा तक ऋण लेने की निदेशक मंडल को अनुमति दिये जाने का प्रस्ताव रखा जायेगा। 

इस समय कंपनी के कुल 20 करोड़ शेयर हैं जिनमें 18 करोड़ इक्विटी शेयर और दो करोड़ वरीय शेयर हैं। ये सभी शेयर 10 रुपये अंकित मूल्य वाले हैं। शेयरधारकों की बैठक में 50 करोड़ नये इक्विटी शेयर और 150 करोड़ नये वरीय शेयर जारी करने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया जाना है। इस प्रकार शेयरों की संख्या 10 गुणा बढ़ाकर 220 करोड़ करने की कंपनी की योजना है। 

वरीय शेयर कंपनी में निवेश करने वाली दूसरी कंपनियों या उसके ऋणदाता बैंकों को जारी किये जायेंगे। कंपनी बैंकों के कंसोर्टियम से लोन ले रखा है जिसमें मुख्य ऋणदाता तथा कंसोर्टियम का प्रमुख भारतीय स्टेट बैंक है। चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में 262 करोड़ रुपये का नुकसान उठा चुकी कंपनी को कर्मचारियों के वेतन तथा हवाई अड्डा शुल्क आदि चुकाने में दिक्कत आ रही है। गत 31 जनवरी को ऋण की किस्त भी नहीं चुका पायी है।

इसके बाद एसबीआई की अगुवाई में बैंकों के कंसोर्टियम ने समाधान प्रक्रिया शुरू की है जिसके तहत जेट एयरवेज में किसी दूसरी एयरलाइंस या अन्य कंपनी के निवेश के विकल्प तलाशे जा रहे हैं। निवेश की राशि के कंपनी को वरीय शेयर जारी किये जायेंगे। साथ ही कुछ ऋण राशि को भी इक्विटी शेयर में बदला जा सकता है।

369 अंक की गिरावट के साथ 35,657 के स्तर पर बंद हुआ सेंसेक्स



मुंबई। सप्ताह के पहले दिन शेयर बाजार गिरावट के साथ खुला और गिरावट के साथ ही  लाल निशान पर बंद हुआ। गिरावट के इस माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 368.84 अंक यानि 1.02 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,656.70 के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी पर भी कारोबार की समाप्ति पर गिरावट हावी रही और ये 119.00 अंक यानि 1.10 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,661.55 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को शेयर बाजार बढ़त के साथ हरे निशान पर खुला लेकिन पूरे दिन के कारोबार के दौरान सेंसेक्स – निफ्टी बढ़त को बरकरार रखने में नाकामयाब रहे और कारोबार की समाप्ति पर भारी गिरावट के साथ बंद हुए। कारोबार की शुरूआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 274.92 अंक यानि 0.76 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 36,470.02 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 169.56 अंक यानि 0.47 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36,025.54 के स्तर पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी कारोबार की शुरूआत में 78.15 अंक यानि 0.72 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,927.95 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 69.25 अंक यानि 0.64 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,780.55 के स्तर पर बंद हुआ।

 
प्रेस24 न्यूज़ – Press24 News, KNMN

 

Source link

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: