सपा के प्रतिनिधिमंडल ने नाविक समाज के संगठनों से मिलकर वस्तुस्थिति की जानकारी ली

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.


वाराणसी : सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी ने वाराणसी के गंगा नदी में उ०प्र० सरकार द्वारा क्रूज़ संचालन से पारम्परिक रूप से नाव चलाकर जीवकोपार्जन करने वाले निषाद, मल्लाह, साहनी, बिंद, कश्यप आदि मछुआरे समाज की रोजी रोटी छिनने के खतरे का सज्ञान लेते हुते आठ सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को नाविक समाज के संगठनों से मिलकर वस्तुस्थिति की जानकारी हेतु वाराणसी भेजा। प्रतिनिधिमंडल में विधानपरिषद के सभापति डॉ० राजपाल कश्यप एमएलसी, गोरखपुर के सांसद प्रवीण निषाद, पूर्व सांसद रामकिशन यादव , पूर्व विधायक द्वय राजनारायण बिंद, सुरेन्द्र सिंह पटेल, सपा जिला/ महानगर अध्यक्ष डॉ०पीयूष यादव, श्री राजकुमार जायसवाल व पिछड़ावर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव मुरारी कश्यप शामिल थे।आज प्रातः 10 बजे राजेन्द्र प्रसाद घाट पर नाविक संगठनों के प्रमुख पदाधिकारियों व सपा के प्रतिनिधिमंडल की बैठक लगभग 2 घण्टे चली, समस्त नाविक संगठनों ने सरकार द्वारा क्रूज़ संचलन को गरीबों के मुँह का निवाला छिनने वाला कदम बताते हुए इसके संचालन की स्थायी रूप से समाप्त करने की पुरजोर मांग किया।नाविकों को संबोधित करते हुए सपा के विधानपरिषद सदस्य डॉ राजपाल कश्यप ने कहा कि मेरा भी जन्म गरीब मल्लाह परिवार में हुआ है इसलिए मैं मछुआरा समाज की वेदना को अच्छी तरह समझ रहा हूँ, अनादिकाल से मछुआरों के पास अपने परिवार के भरणपोषण के लिए नदियों में नाव चलाना ही एकमात्र धंधा है, सरकारी स्तर पर क्रूज़ संचालन को गरीब विरोधी कदम बताते हुए, वहीं से जिलाधिकारी वाराणसी से टेलीफोन से वार्ता कर शासन से इस नीति को वापस करने के लिए जिलाधिकारी स्तर पर शासन को रिपोर्ट पेश करने को कहा ताकि गरीबों के पेट पर लात न पड़े और जीवकोपार्जन की समस्या का सामना न करना पड़े। श्री कश्यप ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मा० श्री अखिलेश यादव जी के संदेश को मछुआरा समाज के प्रतिनिधियों को बताते हुए कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जी ने आपके दर्द को समझा है और कहा है कि इस बुनियादी संघर्ष में समाजवादी पार्टी पूरे तौर पर आपसब के साथ है जरूर पड़ने पर सड़क से लेकर सदन तक समाजवादी पार्टी हर स्तर पर सहयोग करेगी। गोरखपुर सांसद प्रवीण निषाद ने कहा कि संसद विशम्भर प्रसाद निषाद जी ने वाराणसी में रोजी रोटी के लिए आंदोलनरत मछुआरे समाज के मांग को राज्यसभा में उठाया था , मैंने भी लोकसभा में तथ्यगत प्रश्न पूछकर स्पष्टीकरण मांगा है और मेरी मांग है कि यदि पर्यटन के दृष्टिकोण से आधुनिक नाव चलाना भी हो तो सरकार को ये काम नाविक समुदाय को देना चाहिए ताकि इस गरीब समुदाय के सामने रोजीरोटी की समस्या उत्पन्न न हो।सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को सम्बोधित सात सूत्रीय मांगपत्र को नाविकों के सांझा संघर्ष समिति के सदस्य सर्वश्री प्रदीप साहनी सोनू, प्रमोद मांझी, मुरारी कश्यप, शम्भू साहनी, बनारसी प्रधान, अशोक साहनी, तन्ना साहनी, मोहनलाल प्रधान, कन्हैयालाल साहनी आदि ने सपा प्रतिनिधि मंडल को सौंपा ताकि उच्चस्तर पर सरकार द्वारा इस मूलभूत समस्या के स्थायी समाधान का मार्ग प्रशस्त हो सके।

Source link

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: