सीएम योगी पहुंचे कुंभ मेला क्षेत्र, अकबर के जमाने से बंद मूल अक्षयवट को आज खोलवा सकते हैं सीएम

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को सुबह प्रयागराज पहुंचे। मुख्यमंत्री का विमान सुबह 10.05 बजे बम्हरौली एयरपोर्ट पर उतरा। यहां भाजपा के वरिष्ठ नेताओं और आला अधिकारियों ने उनकी आगवानी की। सीएम अभी कुंभ मेला क्षेत्र पहुंच रहे हैं। आज सीएम कई योजनाओं की शुरुआत करने के साथ कुंभ की तैयारियों का जायजा लेंगे। दिन भर के कार्यक्रम के दौरान वह अखाड़ों और शिविरों का भ्रमण भी करेंगे। साथ में संतों संग आयोजन पर चर्चा करेंगे। इसके अलावा वह अक्षयवट और बड़े हनुमानजी के दर्शन भी कर सकते हैं। इसके बाद वह सार्वजनिक आवास का उद्घाटन करेंगे। इसी क्रम में उनके सामने स्वच्छता संबंधी वाहनों की परेड होगी। मुख्यमंत्री नाविकों को लाइफ जैकेट वितरित करेंगे। इसके बाद अफसरों के साथ बैठक में कुंभ की तैयारियों की समीक्षा करेंगे। मुख्यमंत्री क्रूज से किला, नैनी ब्रिज आदि स्थलों का अवलोकन करेंगे। इससे पहले वह विश्व सहभागिता क्षेत्र, त्रिवेणी संकुल आदि स्थलों का भ्रमण भी करेंगे। मुख्यमंत्री करीब छह बजे बम्हरौली के लिए रवाना होंगे। वहां से विशेष विमान से लखनऊ के लिए रवाना होंगे। सीएम शटल बसों का भी करेंगे उद्घाटन मेला क्षेत्र में शनिवार को ई-रिक्शा से आवागमन शुरू हो जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हरी झंडी दिखाकर इस सेवा की शुरुआत करेंगे। इसके साथ वह 50 शटल बसों को भी हरी झंडी दिखाएंगे। कुंभ के दौरान मेला क्षेत्र में चार पहिया वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। इसके अलावा मेला क्षेत्र के बाहर पार्किंग बनाई गई है। वहां से मेला क्षेत्र ई-रिक्शा चलाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए 500 से अधिक ई-रिक्शा मंगाए गए हैं। इनके लिए मेला क्षेत्र में अलग रूट भी बनाए गए हैं। शहर में तथा पार्किंग स्थलों से परेड तक शटल बसें चलाई जाएंगी। मुख्यमंत्री परेड में दोनों ही सेवाओं को हरी झंडी दिखाएंगे। अनी अखाड़ों की धर्मध्वजा में शामिल होंगे मुख्यमंत्री तीनों अनी अखाड़े, पंच निर्वाणी अनी अखाड़ा, पंच निर्मोही अनी अखाड़ा और पंच दिगंबर अनी अखाड़े की धर्मध्वजाएं आज छावनी में स्थापित की जाएंगी। सुबह दस बजे से दोपहर साढ़े बारह बजे के बीच आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ भी शामिल होंगे। इस दौरान वह सबसे पहले दिगंबर अनी अखाड़ा, फिर निर्वाणी अनी अखाड़ा और अंत में निर्मोही अनी अखाड़ें में ध्वजारोहण करेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को अकबर के किले में स्थित मूल अक्षयवट को आम श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोलने का एलान कर सकते हैं। इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। उधर, किले में स्थापित करने के लिए मां सरस्वती की नयनाभिराम प्रतिमा को भी शुक्रवार को मूर्तिकारों ने अस्त्र-शस्त्र, मुकुट से सजा-संवार कर अंतिम रूप दे दिया। शनिवार की सुबह सरस्वती कूप पर प्रतिमा लगा दी जाएगी। शाम पांच बजे के बाद सीएम किला पहुंचेंगे। अकबर के किले में 433 वर्ष से बंद मूल अक्षयवट को देश-दुनिया के सनातनधर्मी आस्थावानों के लिए खोलने की घोषणा बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी।

Source link

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: