सिपाही की ‘दादागिरी और उत्पात’ से शहर में दहशत, गोलियां की तड़तड़ाहट से थर्राया इलाका

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.


प्रदेश में खाकी की दबंगई का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। वाकया कानपुर महानगर का है जहां एक निलंबित सिपाही ने जमकर उत्पात मचाया। इनता ही नहीं सिपाही ने दूसरे की रायफल से कई राउंड फायरिंग की। इससे इलाके में दहशत का माहौल है। सिपाही की करतूतों का वीडियो वायरल होते ही हड़कंप मच गया। एसएसपी अनंत देव ने सिपाही पर कार्रवाई के आदेश दिए हैं। पनकी थानाध्यक्ष शेष नारायण ने बताया कि सी ब्लाक पनकी में केडीए और सिंचाई विभाग की जमीन पर तमाम लोगों ने कब्जा कर रखा है। इनमें सिपाही उदयवीर सिंह भी है। वह जमीन पर निर्माण करा रहा है। जब वह बिल्डिंग मैटेरियल मांगता है तो मोहल्ले वाले उसे लौटा देते हैे। इस कारण वह निर्माण नहीं करा पा रहा है। मंगलवार को सिपाही ने मौरंग मंगाई। रात में ट्राली से मौरंग पहुंची तो मोहल्ले के कुछ लोगों ने ट्रैक्टर वाले को भगा दिया। पता चलने पर बुधवार सुबह उदयवीर वहां पहुंचा और हंगामा करने लगा। आसपास के लोगों के विरोध करने पर सिपाही घर से भतीजे की रायफल ले आया। एक के बाद एक उसने चार हवाई फायर किए। सूचना पर पुलिस पहुंची तो वह घर में घुस गया। दरवाजा बंद कर गाली-गलौज करता रहा। इस पर पुलिस कर्मी वहां से लौट गए। आरोपी सिपाही कोतवाली थाने में तैनात था आरोपी सिपाही का कहना है कि मोहल्ले-वालों ने पानी की निकासी के लिए उसके घर से सामने नाली बना दी है। इसका वह विरोध कर रहा है। मोहल्ले वालों ने सिपाही पर दबंगई करने का आरोप लगाया है। कुछ लोगों ने सिपाही के हंगामे और फायरिंग का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। एसएसपी ने मामले को संज्ञान में लेकर थानाध्यक्ष को कार्रवाई के निर्देेश दिए हैं। आरोपी सिपाही कोतवाली थाने में तैनात था। पिछले दिनों उसने बवाल किया था जिसमें वह निलंबित चल रहा है। उसके खिलाफ एससीएसटी की रिपोर्ट दर्ज है। दो एनसीआर भी दर्ज हैं। जिस जमीन पर कब्जे को लेकर विवाद चल रहा है, उसे खाली कराने के लिए केडीए व सिंचाई विभाग को पत्र भी लिखा गया है। दोनों विभाग कब्जेदारों को नोटिस जारी कर चुके हैं। दोनों विभागों की टीम जब भी जमीन खाली कराने आएगी, पुलिस पूरी मदद करेगी। -शेष नारायण, थानाध्यक्ष, पनकी

Source link

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author

Comments

Loading...
%d bloggers like this: