कर्नाटक: कुमारस्वामी की ताजपोशी या विपक्ष का शक्ति प्रदर्शन

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

इमरान कुरैशी
बेंगलुरु से, प्रेस24 हिंदी डॉटकॉम के लिए

Loading…

इमेज कॉपीरइट
Getty Images

कर्नाटक में जनता दल सेकुलर के नेता कुमारास्वामी बुधवार को अपनी कैबिनेट के साथ शपथ लेंगे.बेंगलुरु में होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में गैर-भाजपा दलों के नेता शामिल होने जा रहे हैं.बीएस येदियुरप्पा के इस्तीफ़े और कर्नाटक में बीजेपी का परचम लहराने से रोकने के बाद गैरभाजपा दलों के लिए ये जश्न का मौका होगा.देश के पूर्व प्रधानमंत्री और राज्य के भावी मुख्यमंत्री एचडी कुमारास्वामी के पिता एचडी देवगौड़ा ने कहा है कि शपथ ग्रहण समारोह में विपक्षी दलों के नेता उपस्थित होंगे.एचडी देवगौड़ा ने साल 1996 में कांग्रेस की मदद से केंद्र में सरकार बनाई थी.

कर्नाटक में गठबंधन सरकार के बाद की कथा, जो बाक़ी हैकर्नाटक में कब तक टिकेगा कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन?कर्नाटक में बाज़ी पलटने वाला कौन?

इमेज कॉपीरइट
Getty Images

मेहमानों की लिस्टएचडी कुमारास्वामी ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी और वर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी को समारोह में शामिल होने के लिए खुद आमंत्रित किया है.जब वो सरकार के स्वरूप की चर्चा के लिए दिल्ली गए थे, उन्हें सोनिया गांधी का पैर भी छुए थे. समारोह में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, बंगाल की ममता बनर्जी, केरल के पिनराई विजयन और आंध्रप्रदेश के चंद्रबाबू नायडू ने शामिल होने की पुष्टि की है.यह समरोह शाम 4.30 बजे विधानसभा में शुरू होगा. क्षेत्रीय और राष्ट्रीय दलों के नेता मायावती, अखिलेश यादव, तेजस्वी यादव, सीताराम येचुरी, अजीत सिंह और कमल हासन भी समारोह के गवाह बन सकते हैं.तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव कुछ ज़रूरी कारणों से समारोह में शामिल नहीं हो पाएंगे. तमिलनाडु के तूतीकोरिन में हुई हिंसा के चलते डीएमके के चीफ एमके स्टालिन के समारोह में शामिल होने पर संशय बना हुआ है.

‘कर्नाटक के बाद नरेंद्र मोदी – अमित शाह की जोड़ी अपराजेय नहीं रही’कर्नाटक: कांग्रेस ने अमित शाह को उनके हथियार से ही कैसे मात दी?राहुल गांधी ने जो कर्नाटक में किया वो 2019 में करेंगे?

इमेज कॉपीरइट
EPA

अध्यक्ष उपाध्यक्ष कौन होंगेविपक्षी दलों के एक साथ आने का संदेश देने वाले इस समारोह में मंत्रिमंडल के स्वरूप से पर्दा उठेगा. ये तय हो चुका है कि सरकार में उप-मुख्यमंत्री, विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष कौन होंगे.कुमारास्वामी के साथ कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर जी परमेश्वर को भी राज्यपाल वजुभाई वाला शपथ दिलाएंगे.कुमारास्वामी ने कहा, “हमलोग 24 मई को विधानसभा में बहुमत साबित करेंगे. इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चयन किया जाएगा.”अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस की तरफ से केआर रमेश कुमार का नाम सुझाया गया है. रमेश कुमार साल 1994 में विधानसभा के अध्यक्ष रह चुके हैं, जब एचडी देवगौड़ा मुख्यमंत्री निर्वाचित हुए थे.

इमेज कॉपीरइट
EPA

लिंगायतों का मुद्दाउपाध्यक्ष पद पर जनता दल सेकुलर का कोई नेता बैठेगा. कांग्रेस ने दो उपमुख्यमंत्री होने की बात कही थी, जिसे जनता दल सेकुलर ने अस्वीकार कर दिया है.कांग्रेस दूसरे उपमुख्यमंत्री पद पर लिंगायत समुदाय के नेता को बिठाना चाहती थी.कांग्रेस की सिद्धारमैया सरकार ने लिंगायत समुदाय को अल्पसंख्यक का दर्जा देने की बात कही थी, जिसके खिलाफ भाजपा ने चुनाव के दौरान प्रचार किया था. भाजपा का आरोप था कि सिद्धारमैया ऐसा करके हिंदू समाज को बांटने की साजिश कर रहे हैं.वेनुगोपाल ने कहा, “34 मंत्रियों के मंत्रिमंडल में कांग्रेस के 22 और जनता दल सेकुलर के 12 नेता होंगे.” “विभागों का बंटवारा फ्लोर टेस्ट के बाद होगा. हमलोग एक से दो दिन में को-ऑर्डिनेशन कमिटी की घोषणा करेंगे.”(प्रेस24 हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

(ये खबर सिंडिकेट फीड से सीधे ऑटो-पब्लिश की गई है.प्रेस24 न्यूज़ ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.आधिक जानकारी के लिए सोर्से लिंक पर जाए।)

सोर्से लिंक

قالب وردپرس

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

शयद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

टिप्पणियाँ

Loading...