अब नीतीश ने पूछा, क्या घोटालों को उजागर करना ही घोटाला है

0


पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट के जरिए राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव पर अप्रत्यक्ष हमले के सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए शुक्रवार को कहा कि क्या घोटालों को उजागर करना और घोटालेबाजों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करना ही घोटाला है।

टाटा मोटर्स ने राहुल के आरोपों काे नकारतें हुए कहा, गुजरात सरकार से हमें कर्ज मिला अनुदान नहीं

कुमार ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर के जरिए राज्य की पूर्ववर्ती महागठबंधन सरकार के सबसे बड़े घटक राजद के अध्यक्ष के साथ जारी अप्रत्यक्ष ‘ट्वीट वार’ को एक कदम आगे ले जाते हुए सवालिया लहजे में कहा कि क्या घोटालों को उजागर करना और घोटालेबाजों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करना ही घोटाला है।

बिहार में महागठबंधन सरकार जाने के बाद से मुख्यमंत्री नीतिश कुमार और राजद सुप्रीमों यादव भले ही एक-दूसरे के आमने-सामने नहीं आए हो, लेकिन सोशल मीडिया के जरिए दोनों नेता एक-दूसरे की आलोचना करने का कोई मौका नहीं छोड़ते।

यूपी निकाय चुनाव: शुरूआती रूझानों में भाजपा चल रही आगे

इससे पूर्व गुरूवार को मुख्यमंत्री ने अपने ट्वीट में भ्रष्टाचार को मुद्दे पर यादव को घेरते हुए उनका नाम लिए बिना कहा कि भ्रष्टाचार शिष्टाचार है। उसके खिलाफ कार्रवाई अनाचार है। इससे पूर्व भी उन्होंने इशारों-इशारों में कहा था, जान की भचता, माल-मॉल की चिंता, क्या सबसे बड़ी देशभक्ति है।

 









प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

قالب وردپرس

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें