छाती की जकड़न को दूर करने के लिए अपनायें ये उपाय

0


हेल्थ डेस्क। गले और छाती में कुछ जमा हुआ सा महसूस हो रहा है? सांस लेने में तकलीफ और लगातार ठींके आ रही हैं? ये सारे लक्षण बलगम जमा होने के होते हैं। साथी ही, नाक बहना और बुखार आना भी इस समस्या के प्रमुख लक्षण हैं। बलगम हालांकि खतरनाक नहीं होता लेकिन अगर ये लंबे वक्त तक जना रहे तो इससे आपको श्वास संबंधी अन्य समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे  में इससे निजात के लिए अपनायें ये उपाय…. 

ये एक्सरसाइज देगी आपको थुलथुला पेट से राहत

गर्म पानी 

जब आपकी सेहत बहुत ज्यादा छाती में जमाव से भर जाती है तो हल्का गर्म पानी पीने से आपको, कफ और बलगम के संचय के कारण होने वाली, छाती की जकड़न को तोड़ने में मदद मिलेगी। सीने की जकड़न के लिए अधिकतर इस्तेमाल किये जाने वाले घरेलू उपचार में से एक नमक का पानी है। खारे पानी के साथ ग़रारे करना, श्वसन नलिका से बलगम को हटाने में मदद करता है। 

अध्ययन: बाल्यावस्था का मानसिक रोग एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में जा सकता है

बलगम को दूर करे भाप 

भाप की गर्मी और नमी के फलस्वरूप चिपचिपी बलगम आसानी से टूट जाती है और विघटित हो सकती है। बहुत गर्म पानी के साथ एक कटोरा भरें और पुदीने के आवश्यक तेल की कुछ बूंदें उसमें डालें। जब तक हो सके, भाप के साथ गहरी श्वास लें।

नहीं जानते होंगे आप शादी करने से स्मृति क्षय को किया जा सकता है दूर…पढ़े पूरी खबर

हर्बल चाय पिएं

गर्म हर्बल चाय सीने के जमाव के लिए एक अच्छा उपाय हो सकता है। विभिन्न जड़ी-बूटियों जैसे इलायची, अदरक आदि से तैयार हर्बल चाय छाती के जमाव में राहत प्रदान करने में बहुत सहायक हैं जो छाती का जमाव करने वाले बैक्टीरिया का विरोध करने में सहायक होती है।

शादी करने से नहीं होती है स्मृति क्षय की बीमारी

गरम दूध और हल्दी

जैसा कि हम सभी हल्दी के औषधीय गुणों जानते हैं। यह ठंड और खांसी से संबंधित समस्याओं को जल्दी से इलाज करने की अपनी क्षमता के लिए बहुत प्रसिद्ध है। हल्दी का आधा चम्मच गर्म दूध में मिलाकर, शहद और थोड़ी काली मिर्च जोड़ें और अच्छी तरह से इसे मिश्रित कर उपयोग करें।

sourse google 

 









प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

قالب وردپرس

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें