पानी की समस्या के लिए मुख्यमंत्री राजे ने कही ये बड़ी बात!

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

Press24 News – Latest Hindi News

लाडनूं। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि नागौर जिले की सदियों पुरानी खारे पानी की समस्या को दूर करना एक चुनौती भरा काम था, लेकिन हम इस चुनौती से भागे नहीं और रात-दिन एक कर हमने 300 किलोमीटर दूर से नहरी पानी लाने का काम किया है। सीएम राजे गुरुवार को 2938 करोड़ रुपए की राजस्थान ग्रामीण पेयजल एवं फ्लोराइड निराकरण परियोजना (नागौर लिफ्ट पेयजल परियोजना द्वितीय चरण) के तहत लाडनूं कस्बे तथा इसके 16 गांवों को 148 करोड़ रुपए की लागत से मीठा पानी उपलब्ध कराने की महत्वपूर्ण योजना के शुभारंभ समारोह को संबोधित कर रही थीं। सीएम राजे ने पंप हाउस पर मोटर का बटन दबाकर नहरी पानी के वितरण कार्य का शुभारंभ किया। 

Loading…

2 लाख 85 हजार लोगों के लिए फ्लोराइड मुक्त जीवन की शुरुआत-

मुख्यमंत्री ने कहा कि नागौर लिफ्ट परियोजना के द्वितीय चरण के अन्तर्गत करीब 148 करोड़ रुपए से इस महत्वपूर्ण भाग के पूरा होने से फ्लोराइड तथा खारे पानी की समस्या का सामना कर रहे लाडनूं क्षेत्र के करीब दो लाख 85 हजार लोगों को अब हिमालय का मीठा पानी उपलब्ध होगा। साथ ही लाडनूं तहसील के 97 अन्य गावों में भी मीठा पानी कुछ दिनों में ही उपलब्ध करा दिया जाएगा। इन गांवों और ढाणियों तक पानी पहुंचाने के लिए इस चरण में 771 किमी पाइप लाइन, 3 पम्प हाऊस, 31 उच्च जलाशयों एवं 3 स्वच्छ भूतल जलाशयों का निर्माण किया गया है। इन 97 गांवों में से 75 गांव, जो कि फ्लोराइड समस्या से अत्यधिक ग्रस्त थे, उनके फ्लोराइड मुक्त जीवन की शुरुआत जल्दी ही होगी।

नावां, कुचामन और परबतसर को इसी साल मीठा पानी

इस अवसर पर सीएम राजे ने कहा कि इसी साल मई माह तक कुचामन, अगस्त माह में परबतसर तथा नवम्बर माह में नावां को भी मीठा पानी मिलने लगेगा। लाडनूं तहसील के 97 अन्य गांवों को भी इस योजना के तहत जून तक मीठा पानी मिलने लग जाएगा। अगस्त 2020 तक पूरे नागौर जिले को इससे जोड़ दिया जाएगा।

साल 2045 तक नहीं करनी होगी चिंता

मुख्यमंत्री ने कहा कि लाडनूं क्षेत्र के लोगों को उनकी पेयजल आवश्यकता के लिए पूरा पानी मिलेगा। वर्ष 2045 तक की जरूरतों को देखते हुए उन्हें मीठे पानी की कोई कमी नहीं रहेगी। आज से कस्बे को प्रतिदिन 77 लाख लीटर पानी वितरित होगा।

अंधड़ में मृत लोगों के प्रति व्यक्त की संवेदना

मुख्यमंत्री ने लाडनूं में अपने संबोधन की शुरूआत प्रदेश के विभिन्न जिलों में अधड़ के कारण मृतकों के प्रति संवेदना व्यक्त कर की। सीएम राजे ने कहा कि इस घटना से वे व्यथित हैं। सहायता के रूप में मृतकों के परिजनो को 4-4 लाख रुपए देने की भी उन्होंने घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे गुरुवार को अंधड़ प्रभावित क्षेत्रों में जाएंगी। मुख्यमंत्री ने स्वागत माला भी नहीं पहनी।



20 करोड़ की सडक़ों की घोषणाएं


मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर लाडनूं क्षेत्र में 20 करोड़ रुपए की लागत से विभिन्न सडक़ निर्माण कार्यों की घोषणा की। इनमें 3 करोड 50 लाख रुपए से जैन विश्व भारती से मेगा हाइवे सडक़ चौड़ाईकरण कार्य, करीब 10 करोड़ रुपए से जैन विश्व भारती से गोपालपुरा सडक़ तक चौड़ाईकरण एवं सुदृढ़ीकरण, मदरसा सहरिया बास से लाडनूं-विश्वनाथपुरा सडक़ तक 1.77 करोड़ का मिसिंग लिंक रोड़, करीब 1 करोड़ 29 लाख से जसवंतगढ़ टंकी से बड़ा बास-लाडनूं तक सडक़ मय नाला निर्माण सहित अन्य कार्य शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने जो वादा किया उसे निभाया

इससे पहले केन्द्रीय खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति राज्यमंत्री सी.आर. चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने नागौर जिले के लोगों से मीठे पानी का जो वादा किया था वह निभाया है। उन्होंने कहा कि नागौर जिले में कई बड़े एवं लोकप्रिय जनप्रतिनिधि हुए, लेकिन वे भी यहां की खारे पानी की समस्या को दूर कर पाने में सफल नहीं हो पाए। ऐसे में सीएम राजे का जितना अभिनंदन किया जाए, कम है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश के 30 लाख किसानों के कृषि ऋण माफ कर ऐतिहासिक काम किया है। लाडनूं विधायक मनोहर सिंह ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर सार्वजनिक निर्माण मंत्री यूनुस खान, चिकित्सा राज्य मंत्री बंशीधर बाजिया एवं अन्य जनप्रतिनिधि, वरिष्ठ अधिकारीगण एवं आस-पास के क्षेत्रों से बड़ी संख्या में आए लोग उपस्थित थे।

Press24 News – Latest Hindi News

(ये खबर सिंडिकेट फीड से सीधे ऑटो-पब्लिश की गई है.प्रेस24 न्यूज़ ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.आधिक जानकारी के लिए सोर्से लिंक पर जाए।)

सोर्से लिंक

قالب وردپرس

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

शयद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

टिप्पणियाँ

Loading...