ZEE जानकारी: 30 नवंबर 1917 को पहली बार जारी किया गया था एक रुपए का नोट

0


करीब साढ़े 6 लाख रुपये के Bitcoin के बाद.. अब हम एक रुपये की बात करेंगे. आज मेरे हाथ में एक रुपए का ये नोट है.. जो मैंने बहुत मुश्किल से ढूंढा है. भारत के लोगों की नज़र में अब एक रुपए के नोट की कोई कीमत नहीं है. आज के दौर में ये नोट सिर्फ शादी-ब्याह.. और शगुन के लिफाफों में देखने को मिलता है.  वक़्त और विकास की आंधी में एक रुपये का नोट आज भी किसी तरह खड़ा हुआ है.. और इसकी वजह ये है कि एक रुपए के नोट से हमारी बहुत सारी यादें जुड़ी हुई हैं. एक रुपए का नोट आज 100 वर्ष का हो गया है. 30 नवंबर 1917 को पहली बार एक रुपए का नोट जारी किया गया था.  

अगर आप आज इस नोट को लेकर बाज़ार में जाएं तो शायद आप इससे एक Toffee के अलावा कुछ भी ना खरीद पाएं. फिर भी एक रुपए का नोट हमारे मन को अच्छा लगता है. क्योंकि ये नोट सिर्फ़ कागज़ का टुकड़ा नहीं है. इससे हमारे बचपन की बहुत सारी यादें जुड़ी हुई हैं. आज भी जब घर में कोई शुभ काम होता है. तो दान दक्षिणा देने और शगुन के लिए के लिए एक रुपये का नोट ढूंढा जाता है. आज भी देश में बहुत सारे लोग ऐसे होंगे जिन्होंने कभी किसी ज़माने में एक रुपए में पेट भर खाना खाया होगा. वर्ष 1917 के आसपास एक रुपए में क्या-क्या खऱीदा जा सकता था ? एक रुपए की कितनी कीमत थी ? ये जानने के लिए आज हमने काफी रिसर्च किया. हमने उस दौर के कई लेख पढ़े…

जिनसे हमें ये पता चला कि वर्ष 1920 के आसपास एक रुपए में 10 किलो गेहूं खऱीदा जा सकता था. एक रुपए में 12 किलो चना खरीदा जा सकता था. एक रुपए में 6 किलो चावल आ जाते थे. और एक रुपए में आधा ग्राम सोना खरीदा जा सकता था. यानी तब सोने का भाव करीब 20 रुपये प्रति 10 ग्राम के आसपास रहा होगा. यानी 20 रुपये में एक तोला सोना.

एक रुपए के नोट का एक गौरवशाली इतिहास है. आज से 100 साल पहले 30 नवंबर 1917 को एक रुपए का नोट जारी हुआ था. तब भारत में अंग्रेज़ों का राज था. सबसे पहले एक रुपए के नोट England में Print हुए थे. नोट के बाईं तरफ, ऊपर के हिस्से में King George Pancham के चांदी के सिक्के वाली तस्वीर थी.  इस नोट पर लिखा था ‘I promise to pay the bearer, the sum of ONE RUPEE on demand at any Office of Issue ‘. इसका मतलब है ‘मैं धारक को किसी भी कार्यालय के काम के लिए एक रुपया अदा करने का वचन देता हूं.’

इस नोट के पीछे 8 भारतीय लिपियों में… एक रुपया लिखा हुआ था. 100 वर्षों में हिंदुस्तान पूरी तरह बदल चुका है. लेकिन एक रुपए से जुड़ी बहुत सारी बातें आज भी नहीं बदली हैं. भारत की मुद्रा में एक रुपए का नोट, सबसे छोटा लेकिन शायद बहुत महत्वपूर्ण नोट है. क्योंकि आज भी इस नोट को भारत सरकार जारी करती है. आज से 100 वर्ष पहले भी एक रुपए के नोट पर Government of India लिखा होता था और आज भी ये सिलसिला ऐसे ही चल रहा है. 

आज Zee News की टीम ने एक रुपए के नोट का एक ऐतिहासिक वीडियो विश्लेषण तैयार किया है. शायद आपको जानकर हैरानी होगी. एक रुपए के ऐसे नोट आज भी मौजूद हैं. जिस पर भारत सरकार भी लिखा हुआ है और पाकिस्तान सरकार भी लिखा हुआ है. 

आज हम आपको भारत के करीब 100 वर्ष पुराने कुछ Videos भी दिखाएंगे. इन Videos को देखकर आप एक रुपए के नोट की ऐतिहासिक यात्रा को और अच्छी तरह समझ पाएंगे. आज की युवा पीढ़ी का मन भारत के इन पुराने Videos को देखकर रोमांचित हो जाएगा. ये एक ऐसा वीडियो विश्लेषण है जिसमें भारत की मिट्टी की खुशबू है और भारत का इतिहास भी है. 



प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

قالب وردپرس

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें