UP civic polls results 2017 आज: क्या दिखेगा सीएम CM योगी दम, या माया-अखिलेश की बचेगी लाज

0


नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में हुए निकाय चुनाव के नतीजे (UP civic polls results 2017) आज (एक दिसंबर) को आएंगे. यह रिजल्ट बीजेपी, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के लिए काफी मायने रखती है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने जनता का विश्वास बरकरार रखने की चुनौती है. वहीं सपा और बीएसपी के सामने दोबारा से राजनीतिक शक्ति साबित करने का मौका है. यूपी नगर निकाय चुनाव की मतगणना शुक्रवार को सुबह आठ बजे से होगी, शाम तक नतीजे घोषित हो जाएंगे. 26 जिलों में 233 निकायों में महापौर, नगर पालिका अध्यक्ष और नगर पंचायत अध्यक्ष सहित 4,299 वार्डों में पार्षद और सभासद प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा.

यूपी नगर निकाय चुनाव का तीसरा और अंतिम चरण बुधवार (29 नवंबर) को संपन्न हो गया था. निर्वाचन आयोग के मुताबिक कुल 52.50 प्रतिशत मतदान हुआ. उत्तर प्रदेश के राज्य निर्वाचन आयुक्त एस.के. अग्रवाल ने बताया कि तीसरे चरण में अब तक करीब 52.50 प्रतिशत मतदान रिकॉर्ड किया गया है. उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर तीन चरणों के मतदान का प्रतिशत औसतन 52.5 प्रतिशत रहा. यह 2012 के चुनाव के 46.2 से करीब छह प्रतिशत ज्यादा है.

सबसे कम मतदान नगर निगमों में हुआ
अग्रवाल ने कहा कि नगर निकाय चुनाव में मतदान को लेकर सबसे ज्यादा उदासीनता शहरों में देखने को मिली. सबसे कम मतदान नगर निगमों में हुआ, वहीं नगर पंचायतों में अच्छा उत्साह देखने को मिला. उन्होंने कहा, “नगर निगमों में जहां करीब 41.26 प्रतिशत मतदान दर्ज हुआ, वहीं पालिका परिषद में 58 प्रतिशत और नगर पंचायतों में 68.30 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया.”

ये भी पढ़ें: योगी आदित्यनाथ ने कहा, भाजपा सरकार बनने के बाद उत्तर प्रदेश में लौटने लगे हैं निवेशक

मतदाता सूची में गड़बड़ी का मुद्दा छाया रहा
पहले और दूसरे चरण की तरह ही आखिरी चरण में भी मतदाता सूची में गड़बड़ी का मुद्दा छाया रहा. कई जगहों पर मतदाता सूची में नाम न होने की वजह से लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया. इसके अलावा ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें भी मिलीं. कई जगहों पर असामाजिक तत्वों से निपटने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा था. बाराबंकी शहर कोतवाली के पीर वटावन के वार्ड 26 में पुलिस ने मतदाताओं पर जमकर लाठियां बरसाई और एजेंटों की कुर्सियां तोड़ डाली. इसके बाद जनता ने पुलिस और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की.

ये भी पढ़ें: UP: बीजेपी ने निकाय चुनावों को लेकर जारी किया संकल्प पत्र

दूसरी तरफ सहारनपुर के नानौता नगर पंचायत क्षेत्र में पुलिस ने फर्जी वोट डालते तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया, जबकि जौनपुर के दो वाडरें में करीब 500 लोगों के नाम गायब होने के बाद लोगों ने प्रदर्शन किया. मतदाता सूची में नाम न होने के बाद सरस्वती कॉलेज के बूथ संख्या 151 पर लोगों ने प्रदर्शन किया था.



प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें