अमेरिकी ड्रोन ने किया 4 हक्कानी आतंकवादियों को ढ़ेर

0


अफगानिस्तान की सीमा के निकट पाकिस्तान के पहाड़ी इलाके में स्थित हक्कानी आतंकवादियों के ठिकाने पर गुरुवार को एक संदिग्ध अमेरिकी ड्रोन के हमले में चार आतंकवादी मारे गए। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी है। पाकिस्तानी खुफिया विभाग के 2 अधिकारियों और एक स्थानीय सरकारी अधिकारी ने बताया कि एक मानवरहित विमान से नेटवर्क के शीर्ष कमांडर के इलाके में एक आवासीय भवन पर दो मिसाइलें दागी गई।

स्वर्ण कारोबारी ने अमेरिकी कोर्ट को कहा, ईरान समझौते के मुद्दे पर तुर्की के पूर्व मंत्री को पैसा दिया

इससे पहले ग्रामीणों ने कुर्राम के ऊपरी इलाके में विस्फोट की सूचना दी थी। उन्होंने बताया कि हमें बाद में मुखबिरों ने बताया कि एक अमेरिकी ड्रोन ने हक्कानी ठिकाने को निशाना बनाया। अधिकारियों ने मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि अभी तक यह साफ नहीं है कि मरने वालों में हक्कानी का उक्त कमांडर भी शामिल है या नहीं।

यदि आज के हमले की पुष्टि हो जाती है तो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के जनवरी में पद संभालने के बाद पाकिस्तान के भीतर यह चौथा अमेरिकी हमला होगा। ट्रम्प का पाकिस्तानी आतंकवादियों के प्रति कड़ा रुख अपनाना अफगानिस्तान युद्ध को लेकर नयी रणनीति का हिस्सा है। पाकिस्तान के भीतर पैठ बनाए हुए हक्कानी आतंकवादियों पर हमला भी इसी रणनीति का हिस्सा है। दरअसल हक्कानी नेटवर्क पाकिस्तानी धरती से अफगानिस्तान में काम कर रहे अमेरिकी नेतृत्व वाले नाटो के जवानों पर अकसर हमला करता रहा है।

संयुक्त राष्ट्र ने सीरिया शांति वार्ताओं में वास्तविक प्रगति का किया आव्हान

हालांकि पाकिस्तान ने ऐसे आरोपों से साफ इंकार किया है तथा उल्टा अफगानिस्तान पर उन आतंकवादियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया जो पाकिस्तान पर हमले करते हैं। पाकिस्तान गत एक दशक से इस्लामिक आतंकवाद का सामना कर रहा है। राजधानी इस्लामाबाद स्थित शिया समुदाय के एक मस्जिद पर आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट से संबद्ध सुन्नी समुदाय के आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-जांघवी अल-अलामी के बंदूकधारियों ने हमला कर 2 लोगों को मार डाला। एजेंसी

 









प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

قالب وردپرس

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें