आज तक अजमल को है इस बात का मलाल

0


कराची। भारत के महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर का विकेट लेने को गेंदबाज अपने लिए उपलब्धि मानते हैं। फिर पाकिस्तान के दिग्गज ऑफ स्पिनर सईद अजमल ही क्यों न हो।

कल होगा फुटबॉल विश्व कप की 32 टीमों की किस्मत का फैसला

इस पाक गेंदबाज को पांच साल से अधिक बीत जाने के बाद आज तक समझ में नहीं आया कि विश्व कप 2011 के सेमीफाइनल में अंपायरों ने सचिन तेंदुलकर को उनकी गेंद पर नाट आउट कैसे करार दिया था।

इंग्लैंड टीम से बाहर हुए स्टोक्स अब इस देश में खेल सकते हैं क्रिकेट

40 साल के अजमल ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया। मोहाली में पाकिस्तान के खिलाफ विश्व कप सेमीफाइनल में तेंदुलकर ने 85 रन बनाए थे। अजमल ने उन्हें आउट किया था।

30 वर्षों से बरकरार है कोटला पर भारत का दबदबा

अजमल ने कहा कि मैं आश्वस्त था कि वह पगबाधा आउट थे, लेकिन आज तक मुझे समझ में नहीं आया कि अंपायरों ने उन्हें आउट क्यो नहीं दिया।

उन्होंने स्वीकार किया कि भारतीय बल्लेबाजों को गेंदबाजी करना आसान नहीं था। उन्होंने कहा कि तेंदुलकर एंड कंपनी को गेंदबाजी करना हमेशा कौशल और क्षमता का परीक्षण होता था।

 

 









प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

قالب وردپرس

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें