जब पटरियां तक हो गईं टेढ़ी, -62 डिग्री टेम्परेचर में हुआ था ये हाल

0



पर्माफ्रॉस्ट बर्फ के नीचे दबी एक मोटी व ठंडी परत है। धरती के गर्म होने की वजह से यह लेयर ऊपर आती है। पर्माफ्रॉस्ट के ऊपर आने पर वहां की जमीन बर्फ में तब्दील होने लगती है। इससे हरेक चीज जम जाती है। यह नदी-तालाब व जमीन से लेकर पहाड़ों की चट्टानों को भी अपनी चपेट में लेती जाती है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें