गुजरात कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बोले – चुनाव नहीं लड़ूंगा, टिकट बंंटवारे को लेकर हैं नाराज!

0


अहमदाबाद: कांग्रेस की गुजरात इकाई के अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने रविवार को कहा कि वह अगले महीने होने जा रहा राज्य विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे. हालांकि, उन्होंने इन खबरों को खारिज किया कि वह उम्मीदवारों के चयन के मुद्दे पर पार्टी आलाकमान से नाखुश हैं. विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस की ओर से अपने उम्मीदवारों की पहली सूची अब तक जारी नहीं करने के मद्देनजर सोलंकी का चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान काफी अहम है. नौ दिसंबर को होने वाले पहले चरण के मतदान के लिए नामांकन-पत्र दाखिल करने की समयसीमा 21 नवंबर को खत्म हो रही है. गुजरात में सत्ताधारी भाजपा राज्य की कुल 182 विधानसभा सीटों में से 106 सीटों के लिए अपने उम्मीदवार घोषित कर चुकी है.

सोलंकी ने कहा, “मैंने पहले भी कहा है और आज भी घोषित कर रहा हूं कि मैं गुजरात विधानसभा चुनाव नहीं लडूंगा.” टिकटों के बंटवारे को लेकर आलाकमान से नाखुश होने की खबरों पर सोलंकी ने कहा कि यह सच नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘कुछ लोगों ने मेरे खिलाफ अभियान शुरू किया कि मैं पार्टी आलाकमान से खुश नहीं हूं और गुजरात लौटने के लिए (पिछले हफ्ते) केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक बीच में ही छोड़ दी थी.’’ सोलंकी ने कहा, ‘‘मैं पार्टी आलाकमान से नाखुश नहीं हूं.’’ उन्होंने कहा कि वह गुजरात इस वजह से लौटे थे क्योंकि चुनाव प्रचार में उनके जिम्मे कुछ अहम काम थे.

उन्होंने कहा, ‘‘पार्टी ने मेरे लिए बहुत कुछ किया है. मैंने दो लोकसभा चुनाव जीते हैं और स्वतंत्र प्रभार के साथ तीन मंत्रालय संभाले हैं. मैं तीन बार विधायक चुना गया.’’ यह पूछे जाने पर कि कांग्रेस के गुजरात की सत्ता पर काबिज होने की सूरत में क्या उन्होंने खुद को मुख्यमंत्री पद की दौड़ से अलग कर लिया है, इस पर सोलंकी ने कहा कि मुख्यमंत्री पर फैसला करना पार्टी आलाकमान का विवेकाधिकार है.

सोलंकी से जब पूछा गया कि यदि वह पार्टी से नाखुश नहीं थे तो दिल्ली से सीधे बोरसाड स्थित अपने घर क्यों गए, इस पर सोलंकी ने कहा कि वह वहां इसलिए गए थे क्योंकि पिछले साढ़े तीन महीने से वह अपने घर नहीं गए थे. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक 17 नवंबर को दिल्ली में हुई थी. सोलंकी ने कहा कि वह चुनावों में अधिकतम सीटें जीतने में कांग्रेस की मदद करेंगे, क्योंकि वह पार्टी के वफादार सिपाही हैं .

उन्होंने कहा कि कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली सूची आज रात जारी होने की संभावना है. पहले चरण के मतदान के लिए नामांकन-पत्र दायर करने के लिए सिर्फ दो दिन बचे हैं, लेकिन कांग्रेस ने अब तक अपने उम्मीदवार घोषित नहीं किए हैं, क्योंकि पार्टी पटेल आरक्षण के मुद्दे और अंदरूनी गुटबाजी से निपटने के साथ जातिगत संतुलन साधने की कोशिश कर रही है. यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस हार्दिक पटेल की अगुवाई वाली पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) के सदस्यों को टिकट देगी, इस पर उन्होंने ‘‘हां’’ कहकर जवाब दिया.

उन्होंने कहा, ‘‘पास के सदस्यों ने टिकट नहीं मांगे हैं, लेकिन कांग्रेस पार्टी के हित में उन्हें टिकट देगी.’’ शरद पवार की एनसीपी और शरद यादव की अगुवाई वाले जदयू के धड़े के साथ सीट साझेदारी समझौते के बाबत सोलंकी ने कहा कि बातचीत जारी है और नतीजे का इंतजार है.



प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें