VIDEO: बिहार के मंत्री का बेशर्मी भरा बयान, 'क्या शहीद की अंतिम विदाई में जाकर उन्हें जिंदा कर देते'

0


पटना : बिहार सरकार में मंत्री विनोद सिंह ने बुधवार को शहीद मुजाहिद खान की अंत्येष्टि में शामिल नहीं होने पर सफाई देते हुए विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा, ‘कटिहार से पीरी की दूरी 600 किलोमीटर है, हम रास्ते में हूं और शहीद के परिवार से मिलने जा रहा हूं.’ जब उनसे पूछा गया कि वह मंगलवार को क्यों नहीं गए और आज जाने से क्या फायदा तो उन्होंने कहा, ‘कल ही जाकर क्या फायदा होता, मैंने दिल से उन्हें सैल्यूट किया है, कल जाकर हम उन्हें जिंदा कर देते क्या.’ 

परिवार ने बिहार सरकार का 5  लाख का चेक लेने से मना किया
बता दें कि बिहार के भोजपुर जिले के पीरो निवासी मुजाहिद खान को पीरो में राजकीय सम्मान के साथ  मंगलवार को  सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया. जम्मू कश्मीर में श्रीनगर के करन नगर में आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में गत सोमवार को शहीद हुए सीआरपीएफ की 49वीं बटालियन के कांस्टेबल मुजाहिद खान के परिवार के सदस्यों ने बिहार सरकार द्वारा दिया गया पांच लाख रुपये का चेक लेने से इनकार कर दिया.

भोजपुर के जिलाधिकारी संजीव कुमार ने बताया कि “खान के परिवार ने चेक स्वीकार करने से इनकार कर दिया है. उनका कहना था कि दी जा रही राशि अर्द्धसैनिक बलों के जवानों के शहीद होने पर आश्रितों को अनुग्रह राशि के तौर पर दी जाने वाली 11 लाख रुपये से कम है. उन्होंने कहा कि राज्य के गृह विभाग को इसके बारे में लिखा गया है क्योंकि अनुग्रह राशि का निर्धारण इस विभाग द्वारा ही ​किया जाता है.

बिहार: शहीद मुजाहिद की अंतिम विदाई में कोई मंत्री नहीं पहुंचा, परिवार ने लौटाया चेक

 राजद ने अंतिम विदाई में किसी मंत्री के शामिल नहीं होने पर साधा निशाना
वहीं राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने खान की अंतिम विदाई के समय प्रदेश के किसी मंत्री या वरिष्ठ अधिकारी के उपस्थित नहीं रहने का आरोप लगाते हुए इसे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की शहीद जवान के प्रति असंवेदनशीलता बताया है.

(इनपुट – एजेंसी)



प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें