राज्य संघों को भेजे पत्र में गलती से बीसीसीआई की हुई फजीहत

0


भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को उस वक्त फजीहत का सामना करना पड़ा, जब उसने राज्य संघों को भेजे पत्र में 2017-18 सत्र की जगह 2016-17 लिख दिया. बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने राज्य संघों को मुंबई में 28 फरवरी को होने वाली कप्तानों-कोचों की सालाना बैठक के लिए जो पत्र भेजा उस पर मौजूदा सत्र 2017-18 की जगह 2016-17 लिखा है.

इस पत्र में कहा गया, ‘ इस बैठक का मकसद कप्तानों और कोचों से 2016-17 में खत्म हुए रणजी ट्रॉफी सत्र के बारे प्रतिक्रिया लेना और चर्चा करना है.’ साफ तौर पर यह प्रशासनिक विभाग की तरफ से की गई तथ्यात्मक और टाइपोग्राफिक त्रुटि है, लेकिन ज्यादातर राज्य संघ इस बात से खफा है कि इसका पता चलने के बाद भी किसी ने अब तब इस गलती को सही करने की कोशिश नहीं की.

राज्य संघ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम ना छापने की शर्त पर कहा, ‘यह उनकी गलती है, लेकिन ऐसा लग रहा कि उन्होंने पिछले साल के पत्र को फिर से कापी-पेस्ट कर भेज दिया है. उन्हें थोड़ी सावधानी बरतने की जरूरत है.’ उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है किसी भी दस्तावेज पर हस्ताक्षर करने से पहले सचिव को एक बार पढ़ लेना चाहिए. यह घरेलू मैचों को लेकर बीसीसीआई के रूख को दर्शाता है.’

 



प्रेस२४ न्यूज़ मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड – कोटगाड़ी न्यूज़ & मीडिया नेटवर्क

Source link

                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                            <a style="display:none" rel="follow" href="http://megatheme.ir/" title="قالب وردپرس">قالب وردپرس</a>

शायद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करें