25 महीने के न्यूनतम स्तर पर थोक महंगाई दर, जुलाई माह में 1.08 फीसदी रही

2



नई दिल्ली। खाद्य पदार्थों के साथ प्रमुख परिवहन ईंधनों की कम कीमतों से जुलाई में भारत की थोक मूल्यों पर आधारित मुद्रास्फीति की वार्षिक दर में कमी आई है। मुद्रास्फीति की दर जहां जून महीने में 2.02 फीसदी थी, वहीं यह जुलाई महीने में घटकर 1.08 फीसदी पर आ गई है। जून माह में थोक महंगाई दर 2.02 फीसदी रही थी। इसके साथ ही अब जुलाई माह में थोक महंगाई दर 25 माह के न्यूनतम स्तर पर फिसल गया है।
 
The annual rate of inflation, based on monthly Wholesale Price Index (WPI), stood at 1.08% (provisional) for the month of July, 2019 (over July ,2018) as compared to 2.02% (provisional) for the previous month and 5.27% during the corresponding month of the previous year. pic.twitter.com/dKbHiKRwoc— ANI (@ANI) August 14, 2019

यह भी पढ़ें – 7th Pay Commission: दशहरा से पहले केंद्रीय कर्मचारियों को तोहफा, बढ़ सकता है महंगाई भत्ता!
महीने दर महीने आधार पर जुलाई में खाने-पीने चीजों की थोक महंगाई दर 5.04 फीसदी से घटकर 4.54 फीसदी रही है। प्राइमरी आर्टिकल्स की थोक महंगाई मई के 6.72 फीसदी से घटकर 5.03 फीसदी पर पहुंच गई है। जुलाई में ईंधन-बिजली की थोक महंगाई दर में कमी आई है ये जून के -2.20 फीसदी से घटकर -3.64 फीसदी पर आ गई है।
महीने दर महीने आधार पर जुलाई में मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स की थोक महंगाई दर 0.94 फीसदी से घटकर 0.34 फीसदी रही है। वहीं नॉन- फूड आर्टिकल्स की थोक महंगाई 5.06 फीसदी से घटकर 4.29 फीसदी पर आ गई है।
यह भी पढ़ें – Zomato ऐप यूज करने से इस महिला का खाता हुआ साफ, हुआ चौंकाने वाला खुलासा
महीने दर महीने आधार पर जुलाई में सब्जियों की थोक महंगाई 24.76 फीसदी से घटकर 10.67 फीसदी फीसदी पर रही है। वहीं अंडा, मांस और मछली की थोक महंगाई पिछले महीने के 5.64 फीसदी से 3.16 फीसदी पर आ गई है। महीने दर महीने आधार पर जुलाई में दालों की महंगाई भी घटी है।
जुलाई में थोक महंगाई मई के 23.06 फीसदी से घटकर 20.08 फीसदी पर आ गई है। प्याज की महंगाई दर भी जून के 16.63 फीसदी से घटकर 7.63 फीसदी रही है। हालांकि जून में आलू का थोक भाव -24.27 फीसदी के मुकाबले -23.63 फीसदी पर रहा है।

ये भी पढ़े
1 की 702





Source link

قالب وردپرس

टिप्पणियाँ

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More