पंजाब में कल बंद का ऐलान, सीएम अमरिंदर ने की पीएम मोदी से दखल की मांग

1



नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में रविदास जी का प्राचीन मंदिर तोड़ने का मामला पंजाब ( Punjab Govt ) में जमकर तूल पकड़ रहा है। दरअसल सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) के आदेश के बाद नई दिल्ली के तुगलकाबाद स्थित श्री गुरु रविदास जी का प्राचीन मंदिर ( Guru Ravidas Temple ) तोड़ दिया गया था।
लेकिन अब ये मुद्दा पंजाब में तेजी से तूल पकड़ रहा है। इसको लेकर जालंधर, कपूरथला, पटियाला, फतेहगढ़ साहिब, रोपड़, फिरोजपुर आदि जिलों में दूसरे दिन भी प्रदर्शन हुए।
खास बात यहहै कि अब गुरु रविदास जयंती समारोह समिति ने 13 अगस्त को पंजाब बंद ( Punjab Bandh ) का ऐलान किया है।
यही नहीं समिति के लोगों ने 15 अगस्त को काला दिवस के रूप में मनाने की अपील की है।
बंद के ऐलान के बाद सीएम अमरिंदर सिंह ( CM Amrinder Singh ) ने मामले को नियंत्रण में लेने के लिए पांज सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। बिहार: लखीसराय में सावन मेले के दौरान मची भगदड़, एक की मौत, कई घायलसीएम ने की मोदी से दखल की अपीलगुरु रविदास जयंती समारोह समिति की ओर से बंद के ऐलान के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी हरकत में आ गए हैं। इस मुद्दे को लेकर उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी से दखल देने की अपील की है।
यही नहीं है मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी से भी इस मुद्दे पर बात कही है।
उन्होंने पुरी से उस जगह को फिर से मंदिर के लिए आवंटित करने की बात कही है।
कैप्टन सिंह ने समुदाय को वित्तीय और कानूनी मदद करने का भरोसा भी दिलाया है, ताकि इस मामले को आगे ले जाने में कोई परेशानी न हो और उसी जगह पर फिर से मंदिर बनाया जा सके। जम्मू-कश्मीर में सेना ने इस क्रिकेटर की फैमिली तक पहुंचाई मदद, खिलाड़ी ने किया शुक्रिया अदा
सीएम ने बनाई कमेटी अमरिंदर सिंह ने इस मुद्दे के तूल पकड़ने के बाद अब पांच सदस्यों वाली कमेटी का भी गठन किया है।
इस कमेटी का काम है राजनीतिक और धार्मिक प्रतिनिधियों से मुलाकात करना और इस मुद्दे का हल निकालने का प्रयास करना।
ये पांच लोग शामिलइस कमेटी में चौधरी संतोख सिंह, चरणजीत सिंह चन्नी, राज कुमार चब्बेवाल, अरुणा चौधरी और सुशील कुमार रिंकू शामिल हैं।

ये भी पढ़े
1 की 699



Source link

قالب وردپرس

टिप्पणियाँ

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More