धवन के चक्कर में केएल राहुल के साथ हो रही है नाइंसाफी, कोहली बैठे हैं आंख बंद करके?

1



त्रिनिदाद। भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज का आखिरी मैच आज पोर्ट ऑफ स्पेन के क्वींस पार्क ओवल मैदान पर खेला जाएगा। इस मैच से पहले ये माना जा रहा है कि विराट कोहली आज टीम में बड़े बदलाव के साथ मैदान पर उतर सकते हैं। शिखर धवन की जगह केएल राहुल को मौका दिए जाने की उम्मीद है। वैसे अभी तक वेस्टइंडीज टूर पर ये देखा गया है कि विराट कोहली ने केएल राहुल के साथ बहुत ही नाइंसाफी की है और ऐसा शिखर धवन को लगातार मौके दिए जाने की वजह से हुआ है।
रिकॉर्डः वनडे में विकेटों का शतक जमाने से चार कदम दूर हैं कुलदीप यादव
टी20 सीरीज में भी राहुल को नहीं मिला था मौका
शिखर धवन की वर्ल्ड कप के बाद टीम में वापसी हुई है, लेकिन वो अपनी लय खो बैठे हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टी20 सीरीज और फिर वनडे सीरीज में भी धवन का बल्ला शांत है। टी20 सीरीज के तीनों मैचों में शिखर धवन फ्लॉप साबित हुए थे। धवन ने तीन टी20 मैचों में सिर्फ 27 रन बनाए थे। इसके बावजूद भी धवन को लगातार मौके दिए जा रहे हैं और इसका नुकसान केएल राहुल को हो रहा है।
 राहुल ने वर्ल्ड कप में नंबर 4 और ओपनिंग में बनाए थे रन
विराट कोहली लगातार केएल राहुल के साथ नाइंसाफी करते हुए उन्हें बाहर बिठाए हुए हैं। धवन को लगातार मौके मिलने की वजह से केएल राहुल को बाहर बैठना पड़ रहा है। हैरानी वाली बात ये है कि विराट ने इनफॉर्म बैट्समैन को बाहर बिठाया है। केएल राहुल का बल्ला वर्ल्ड कप से ही रन उगल रहा है, चाहे उन्होंने 4 नंबर पर बल्लेबाजी की हो या फिर रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत की हो। वर्ल्‍ड कप में राहुल ने रोहित शर्मा व विराट कोहली के बाद टीम इंडिया के लिए सबसे ज्‍यादा रन बनाए थे, लेकिन अब टीम मैनेजमेंट दोनों में से किसी एक को ही मौका दे रहा है।
BCCI ने जिन 6 नामों को किया है शॉर्टलिस्ट उनमें से रवि शास्त्री ने खेले हैं सबसे ज्यादा मैच
आईपीएल से ही अच्छे फॉर्म में हैं केएल राहुल
हैरानी वाली बात ये है कि टी20 सीरीजी में विराट कोहली ने केएल राहुल को मौका ना देकर मनीष पांडे को खिलाया था। मनीष पांडे मौके को नहीं भुना पाए। पिछले कुछ समय में केएल राहुल ने प्लेटफॉर्म पर रन बनाए हैं। वर्ल्ड कप से पहले आईपीएल में भी केएल राहुल सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में शामिल थे। आईपीएल 2019 में उन्‍होंने 14 मैचों में 53.90 की औसत और 135 की स्‍ट्राइक से 593 रन बनाए थे, जिसमें एक शतक और 6 अर्धशतक शामिल था।

ये भी पढ़े
1 की 702



Source link

قالب وردپرس

टिप्पणियाँ

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More