तूफानी पारी खेलकर क्रिस गेल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा, फिर भी रह गई कसक

1



पोर्ट ऑफ स्पेन : भारत ( Indian cricket team ) के खिलाफ बुधवार को क्वींस पार्क ओवल मैदान पर यूनिवर्सल बॉस के नाम से मशहूर वेस्टइंडीज ( West Indies cricket team ) के बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल ( Chris Gayle ) ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की शायद अंतिम पारी खेल ली है। पहले उन्होंने घोषणा की थी कि आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 ( ICC Cricket World Cup 2019 ) के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे, लेकिन बाद में उन्होंने अपना फैसला बदलते हुए भारत के खिलाफ होने वाले वनडे और टेस्ट सीरीज में खेलने की इच्छा जताई थी। वेस्ट इंडीज क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें टेस्ट टीम में चुना नहीं है, इसलिए कह सकते हैं कि यह उनकी आखिरी पारी है।
दर्शकों ले तालियां बजाकर दी विदाई
आउट होने के बाद जब क्रिस गेल पैवेलियन की तरफ जा रहे थे तो उन्होंने अपने हेलमेट को उतार कर बल्ले के हत्थे पर टांग लिया था और दर्शकों की तरफ बल्ले को दिखाते हुए मैदान से बाहर गए। मैदान में मौजूद दर्शकों ने भी उनके सम्मान में खड़े होकर भावभीनी विदाई दी। वह जब तक पैवेलियन नहीं लौट गए, दर्शक तालियां बजाते रहे। गेन जिस अंदाज में पैवेलियन की तरफ जा रहे थे, उससे स्पष्ट लग रहा था कि यह उनके अंतरराष्ट्रीय करियर की की आखिरी पारी है।
क्रुणाल पांड्या को रोहित शर्मा और विराट कोहली की कप्तानी में कोई खास अंतर नहीं नजर आता
भारतीय खिलाड़ियों ने भी मिलाया हाथ
गेल के आउट होने के बाद उनके पैवेलियन जाने से पहले भारतीय खिलाड़ियों ने उनसे हाथ मिलाया और उन्हें शुभकामनाएं दी। बता दें कि गेल का यह 301वां वनडे मैच था। उन्होंने अपने वनडे करियर में 25 शतक और 54 अर्धशतक की मदद से 10, 480 रन बनाए हैं। वह वेस्टइंडीज की तरफ से एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन और सबसे ज्यादा वनडे मैच खेलने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने यह दोनों रिकॉर्ड इसी सीरीज में हासिल किया है। इससे पहले यह रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के दिग्गज बाएं हाथ के बल्लेबाज ब्रायन लारा के नाम यह रिकॉर्ड था।
आखिरी मैच में गेल ने खेली विस्फोटक पारी
इस मैच की शुरुआत में ही बारिश ने बाधा डाली। 1.3 ओवर के बाद बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा। इसके बाद मैदान पर क्रिस गेल (72) का तूफान आया। उन्होंने अपने सलामी जोड़ीदार इविन लुइस (43) के साथ मिलकर टीम को विस्फोटक शुरुआत दी। भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी और खलील अहमद तीनों की तबीयत से धुनाई की। इनकी विस्फोटक पारी का ही नतीजा था कि 11.4 ओवर में वह आउट हुए तो विंडीज के स्कोर बोर्ड पर 10 से ज्यादा के औसत से 121 रन टंग चुके थे। गेल ने 72 रनों की पारी के दौरान मात्र 41 गेंदों का सामना किया। इस दौरान उन्होंने आठ चौके तथा पांच छक्के लगाए। क्रिस गेल को खलील अहमद ने विराट कोहली के हाथों आउट करवाया।
अब दक्षिण अफ्रीका की नजर भविष्य पर, इसलिए भारत दौरे के लिए चुनी ऐसी टीम
सफल करियर के बाद भी रह गई यह कसक
क्रिस गेल भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में खेलना चाहते थे, लेकिन विंडीज क्रिकेट बोर्ड के चयनकर्ताओं ने उन्हें यह मौका नहीं दिया। इसकी एक बड़ी वजह यह थी कि वह अपना आखिरी मैच अपने घर में खेलना चाहते थे। क्रिस गेल जमैका के रहने वाले थे और इस सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच 30 अगस्त से 3 सितंबर तक जमैका में ही खेला जाना था, लेकिन टेस्ट टीम में चयन न होने से उन्हें निराश होना पड़ा।

ये भी पढ़े
1 की 702



Source link

قالب وردپرس

टिप्पणियाँ

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More